नेपाल को त्रासदी से बाहर आने तक मदद जारी रखेगा भारत

भारत सरकार ने पड़ोसी देश नेपाल को भूकंप त्रासदी से बाहर आने तक मदद देने का भरोसा दिलाया है । केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री अनंत कुमार और केन्द्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने रक्सौल में भूकंप राहत शिविर का आज दौरा कर लौटने के बाद पटना में हवाई अड्डे पर संवाददाता सम्मेलन में कहा कि केन्द्र सरकार आपदा की इस घड़ी में पड़ोसी नेपाल के साथ है और वह भूकंप पीड़ितों के बचाव, राहत और पुनर्वास का कार्य पूरा होने तक नेपाल को मदद जारी रखेगी ।bjp 1

पटना में पत्रकारों से कहा राधामोहन व अनंत कुमार ने

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी खुद इसकी निगरानी कर रहे है और उनके नेतृत्व वाले ऑपरेशन मैत्री में ये तीनों पहलू शामिल हैं । श्री कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री ने उन्हें और कृषि मंत्री को रक्सौल जाने का निर्देश दिया था, जिस मार्ग से करीब 70 प्रतिशत लोग नेपाल आते जाते हैं । अब तक नेपाल से करीब 34 हजार लोग रक्सौल पहुंचे हैं । रक्सौल में ही सीमा सशस्त्र बल ने राहत शिविर लगाया है, जिसमें 12 हजार नेपाल से आये लोग पहुंचे हैं और वहां उनका मेडिकल जांच कराया गया है।

 

उन्होंने कहा कि पड़ोसी देश नेपाल के वीरगंज से भी भूकंप पीड़ितों को रक्सौल लाया जा रहा है और वहां उन्हें भोजन उपलब्ध कराने के साथ उन्हें सदमे से बाहर आने में मदद के लिये उनकी कांउसलिंग भी  की जा रही है । केन्द्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री की पहल पर जिस तरह से नेपाल में भारत की ओर से राहत कार्य चलाया जा रहा है, उसकी सराहना दुनियां के कई देश कर रहे है । कई देशों ने अपने लोगों को बचाने और नेपाल से बाहर लाने के लिये मदद मांगी है ।

 

तस्‍वीर- पटना पीएमसीएच में भूंकप पीडि़तों के इलाज का जायजा लेने पहुंचे भाजपा नेता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*