पंचायतों की डिजिटल मैपिंग के लिए मोबाइल ऐप जारी

डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत देश के करीब ढाई लाख पंचायतों की मैपिंग के लिए आज यहां एक मोबाइल ऐप लांच किया गया।  केंन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्री वीरेन्द्र सिंह ने ‘डिजिटल सप्ताह’ के तहत इस अनूठे मोबाइल ऐप लांच किया, जिससे कोई भी नागरिक अपने गांव के स्कूल, अस्पताल, सड़क, तालाब या अन्य सार्वजनिक स्थलों की तस्वीरें खींचकर अपलोड कर सकता है। इन तस्वीरों के सहारे देश भर के पंचायतों की ताजातरीन हालत का अंदाजा लगाकर भविष्य में विकास योजनाओं को लागू किया जा सकेगा।

The Union Minister for Rural Development, Panchayati Raj, Drinking Water and Sanitation, Shri Chaudhary Birender Singh addressing the media at the inauguration of the mobile application of Ministry of Panchayati Raj to support Digital India, in New Delhi on July 02, 2015. 	The Minister of State for Panchayati Raj, Shri Nihalchand is also seen.

 

श्री सिंह ने ‘ मोबाइल ऐप’ लांच करने के बाद पत्रकारों से कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कल ‘डिजिटल इंडिया’ कार्यक्रम लांच किया था। इस डिजिटल सप्ताह की अगली कड़ी में यह मोबाइल ऐप लांच कर रहे हैं। देश भर में दो लाख 40 हजार ग्राम पंचायत हैं। उन्होंने कहा कि जिस तरह जन धन योजना से लोगों का वित्तीय समावेश हुआ उसी तरह इस मोबाइल ऐप से लोगों का इलेक्ट्रॉनिक समावेश होगा और यह क्रांतिकारी कदम है। इससे देश को इलेक्ट्रॉनिक तरीके से जोड़ा जाएगा और इसके लिए देश में 30 लाख से अधिक पंचायत प्रतिनिधियों को भी जोड़ा जाएगा । इसमें संसदीय लोकतंत्र भी परिपक्व होगा और नयी सोच पैदा होगी।
 

यह मोबाइल ऐप राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र ने तैयार किया है। कोई भी नागरिक एसेट डायरेक्टरी डॉट जी ओ बी डॉट इन से यह ऐप अपने स्मार्ट फोन में डाउन लोड कर सकता है। उसके द्वारा खींची गयी तस्वीरों को संपादित और जांच करने के बाद उन्हें ग्रामीण विकास मंत्रालय की वेबसाइट पर पोस्ट किया जायेगा। फोटो अपलोड करने वाले का मोबाइल नम्बर भी दर्ज होगा और यह तस्वीर गूगल मैप पर भी दिखायी देगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*