पटना डिवीज़न के सभी अधिकारी मोबाइल एप पर बनाएंगे अटेंडेन्स

-मोबाइल एप से दर्ज होगी पटना, नालंदा, भोजपुर, बक्सर, रोहतास और कैमूर के पदाधिकारियों की उपस्थिति
नौकरशाही ब्यूरो, पटना

मोबाइल एप से दर्ज होगी पदाधिकारियों की उपस्थिति

मोबाइल एप से दर्ज होगी पदाधिकारियों की उपस्थिति

बिहार में पटना प्रमंडल के सभी जिलों के अधिकारी मोबाइल एप पर अपना अटेंडंस बनाएंगे. प्रमंडल के अंतर्गत सभी छह जिले पटना, नालंदा, भोजपुर, बक्सर, रोहतास और कैमूर के पदाधिकारियों की उपस्थिति मोबाइल एप से दर्ज होगी. यह फैसला प्रमंडलीय आयुक्त आनंद किशोर ने लिया है. उन्होंने कहा है कि अधिकतर पदाधिकारी के कार्यालय से गायब रहने की शिकायत मिली है. उनकी उपस्थिति सुनिश्चित हो सके, इसके लिए यह फैसला लिया गया है. बैठक में सभी जिले डीएम, डीडीसी, डीइओ, सिविल सर्जन सहित अन्य पदाधिकारियों की उपस्थिति में विभिन्न विभागों में चल रही योजनाओं की समीक्षा की गयी और लक्ष्य ससमय पूरा करने के निर्देश दिये गये.
सभी जिलों में 45 दिन में हो सेविका-सहयिका की नियुक्ति
आयुक्त ने सभी जिला को आंगनबाड़ी सेविका व सहायिका के सभी रिक्त पदों को 45 दिन में भरने के निर्देश दिये हैं. उन्होंने स्पष्ट किया कि इसमें किसी भी तरह की कोताही बरतने पर कार्रवाई की जायेगी.
किसानों को जल्दी मुआवजा:
– पटना भू-अर्जन कार्यालय को एक माह के अंदर बख्तियारपुर-मोकामा फोर लेन में मुआवजा लाभार्थियों को 330 करोड़ का भुगतान करने का निर्देश दिया गया.
– सभी जिलाधिकारियों को राजीव गांधी सेवा केन्द्र के लिए स्वीकृत योजनाओं के लिए भूमि की अनुपलब्धता की समीक्षा करने को कहा गया है. साथ ही शत प्रतिशत योजनाओं के कार्यान्वयन सुनिश्चित करने को कहा गया.
– सभी जिलाधिकारी को प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना के तहत लक्ष्य से चार गुणा आवेदन सृजित करने के निर्देश दिये गये हैं. ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग लाभ ले सके.
– सभी जिला में अनुसूचित जाति एवं जनजाति अधिनियम के तहत दायर दावों को ससमय निष्पादन किया जाये. इसके लिए सभी जिला स्तरीय अनुश्रवण समिति की बैठक प्रत्येक तीन महीने पर किया जाये.
– सभी जिला पदाधिकारियों को 25 मार्च तक टीडीएस की राशि कोषागार में चालान के माध्यम से जमा करने के निर्देश दिये गये हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*