पत्रकार बुखारी की हत्‍या में आईएसआई का हाथ

केन्द्रीय मंत्री आर.के. सिंह ने कहा है कि जम्मू कश्मीर में वरिष्ठ पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या में पाकिस्तान की खुफिया एजेन्सी आईएसआई का हाथ है और यह पहला मौका नहीं है जब घाटी में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को दबाया गया है। श्री सिंह ने एक टेलीविजन चैनल से कहा कि श्री बुखारी की हत्या साफ तौर पर आतंकवादियों की हरकत है और उनका आका पाकिस्तान की आईएसआई है।

भाजपा सांसद श्री सिंह पूर्व नौकरशाह हैं और वह केन्द्रीय गृह सचिव भी रह चुके हैं। उन्होंने कहा कि जब भी कोई सही आवाज उठी है,आतंकवादियों ने उसे चुप करा दिया है।  इस हमले को बेहद घृणित कार्य करार देते हुये उन्होंने कहा कि यह कोई छोटी घटना नहीं है। श्री सिंह ने कहा कि यह आतंकवादियों के आकाओं के निर्देश पर हुआ है और यह आका पाकिस्तान की आईएसआई है। घाटी से प्रकाशित होने वाले दैनिक राइजिंग कश्मीर के संपादक श्री शुजात बुखारी की गुरुवार को हमलावरों ने हत्या कर दी थी।
खुफिया सूत्रों के अनुसार, इस घटना के पीछे पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का हाथ है। इसी बीच भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी ने सुझाव दिया है कि सेना को राज्य में सुरक्षा की चुनौती से निपटने के लिए “खुली छूट” दी जानी चाहिये। उन्होंने कहा कि आतंकवादी केवल बंदूक की भाषा समझते हैं और बातचीत की पहल को वे कमजोरी समझते हैं। उन्होंने कहा कि महबूबा सरकार को बर्खास्त करना ही समय की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*