पर्यटन को बढ़ावा दे रही सरकार : मांझी

मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी से आज उनके आवास पर भारत में वियतनाम के राजदूत सीन थान ने मुलाकात की।  श्री थान ने मुलाकात के दौरान वियतनाम और भारत के संबंधों की चर्चा की और मुख्यमंत्री को बताया गया कि वियतनाम से भारी संख्या में पर्यटक बिहार आते हैं। उनकी रूचि बोधगया एवं अन्य बुद्धिस्ट र्सकिट के महत्वपूर्ण स्थानों के परिभ्रमण में रहती है।    मुख्यमंत्री ने वियतनाम के राजदूत के नेतृत्व में आये वियतनामी शिष्टमंडल को बताया कि पर्यटन महत्व के स्थलों को विकसित किया गया है और इसके लिए बुद्धिस्ट सर्किट, सूफी सर्किट, रामायण सर्किट समेत अन्य सर्किट बनाये गये हैं। इसके अन्तर्गत पर्यटक स्थलों पर पर्यटकों की सुविधा के लिए पर्याप्त सुविधायें सुलभ कराई जा रही है ।unnamed (1)

 

श्री मांझी ने बताया कि राज्य में परिवहन व्यवस्था को सुदृढ़ किया गया है, ताकि पर्यटकों को एक जगह से दूसरे जगह जाने में सुविधा के साथ कम से कम समय लगे। उन्होंने कहा कि इन सब कारणों से बिहार आने वाले पर्यटकों की संख्या में प्रति वर्षा अप्रत्याशित वृद्धि हो रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वियतनाम के पर्यटकों का बिहार में स्वागत है। राज्य सरकार पर्यटकों की हर सुविधा का ख्याल रखेगी। उन्होंने राज्य के बौद्ध पर्यटन स्थल बोधगया, राजगीर, नालन्दा, वैशाली और केसरिया की चर्चा करते हुये कहा कि इन स्थलों को आर्कषक रूप देकर देश-विदेश के पर्यटकों को आकर्षित किया जा रहा है।  बैठक में वियतनाम के राजदूत ने बिहार के पर्यटन क्षेत्र एवं मछली उत्पादन क्षेत्र में विशेष रूचि दिखाते हुये यहां पर निवेश कराने की इच्छा प्रकट की।

 

उन्होंने कहा कि वे लोग यहां के कृषि क्षेत्र में भी संभावनाओं की तालाश करेंगे।   वियतनाम के राजदूत ने मुख्यमंत्री को वियतनाम के प्रधानमंत्री श्री न्गुयेन तान डुंग की प्रस्तावित बिहार यात्रा से भी अवगत कराया और कहा कि प्रधानमंत्री उनसे मुलाकात की प्रबल इच्छा रखते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे भी वियतनाम के प्रधानमंत्री से मुलाकात के लिए उत्सुक हैं। इस अवसर पर पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव दीपक प्रसाद, कला संस्कृति सचिव चंचल कुमार, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के सचिव अतीश चंद्रा और मुख्यमंत्री के सचिव संजय कुमार सिंह भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*