पिछड़ा वर्ग आयोग की अनुसंशा लागू करने के लिए धरना

मुस्लिम मलिक जाति को राज्य पिछड़ा आयोग द्वारा पिछ़ा वर्ग की अनुसूची-2 से विलुपित करने की अनुसंशा को सरकार द्वारा ढ़ाई वर्षो से लटकाये रखने के विरोध में आरक्षण ब

चाव संयुक्त अभियान समिति ने कारगिल चौक पर विशाल धरना दिया.

धरने की अध्यक्षता पूर्व सांसद व राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग के पूर्व सदस्य राम अवधेश सिंह ने की.

इस धरने में सामाजिक न्याय के लिए संघर्ष करने वाले 11 संगठनों के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया. इनमें ऑल इंडिया फेड्रेशन ऑफ ओबीसी इम्पलाइज, मूल निवासी संघ, सत्यशोधक मंच, अम्बेडकर मूवमेंट, पसमांदा मुस्लिम महाज, जमीअतुल कुरैश, जमीअतुल मंसूरी, मोमिन कांफ्रेंस, दलित मुस्लिम मुहिम, अखिल भारतीय रंगरेज समाज और बिहार जमीअतुल राईन के नेताओं समेत अनेक निगम पार्षदों ने भाग लिया.

इस अवसर पर पूर्व सांसद राम अवेदश सिंह ने कहा कि मलिक जाति के कुछ लोगों ने गलत सूचना के आरधार पर खुद को पिछड़ा वर्ग में शामिल करवा लिया लेकिन जब इसकी शिकायत पिछड़ा वर्ग आयोग से की गयी और उनके सवर्ण होने के प्रमाण आयोग के समक्ष पेश  किये गये तो आयोग ने मिलक जाति को पिछड़ा वर्ग से हटाने की अनुशंसा दिसम्बर 2011 में राज्य सरकार से कर दी. लेकिन यह अफसोस की बात है कि राज्य सरकार ने इस अनुशंसा को अभी तक लटका रखा है.

आरक्षण बचाव अभियान समित के संयोजक अशोक यादव व प्रोफेसर मोहम्मद अब्बास ने कहा कि पिछले दिनों मलिकों ने ओबीसी की केंद्रीय सूची में शामिल होने का षडयंत्र किया जिसका पुरजोर विरोध समिति ने किया. हमारे विरोध से झुल्लाये मलिक समाज के कुछ लठैतों ने समिति के तीन सदस्यों शमशाद साई, हिशामुद्दीन अंसारी और मनीष रंजन पर आक्रमण कर दिया जिसके खिलाफ हमने गांधी मैदान थाने में शिकायत की. नेताओं ने मांग की कि हमला करने वालों को गिरफ्तार किया जाये और उनके खिलाफ जान लेवा हमला करने का केस दर्ज किया जाये.

इस अवसर पर, उसमान हलालखोर, मनीष रंजन, शमशाद साई, प्रो. अब्दुल वाहिद अंसारी, जफर इमाम और नसीम अहमद ने कहा कि राज्य सरकार को यह तय करना है कि आने वाले चुनाव में उसे मुट्ठी भर लोगों का समर्थन चाहिए या पिछड़ा, अतिपिछड़ा और दलित समाज का समर्थन चाहिए. इस अवसर परशरीफ कुरैशी, दाऊद राई, हिशामुद्दीन अंसारी और अद्यन रॉय ने कहा कि सवर्ण जाति के मलिक समाज को पिछड़ा वर्ग से  अलग करने पर सरकार ने अगर आनाकानी जारी रखी तो यह आंदोलन राज्यव्यापी स्तर पर फैलेगा वहीं इस अवसर पर अली इमाम भारती ने कहा कि शीघ्र ही एक प्रतिनिदि मंडल इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी से मिलेगा.धरने का संचालन इर्शादुल हक ने किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*