पुलिस बल में महिला-पुरुष अनुपात: इतिहास रच सकता है बिहार

राज्य पुलिस बलों में मात्र 5.33 प्रतिशत महिला पुलिसकर्मी हैं और किसी राज्य में महिला पुलिसकर्मियों की नुमाइंदगी 15 प्रतिशत भी नहीं है लेकिन अगले कुछ साल में बिहार इतिहास रचने को तैयार है.

इस से जुड़ी खबर-इस फैसले का स्वागत है नीतीश जी
गृह मंत्रालय के आंकड़ो के अनुसार देश में पुलिसकर्मियों की कुल 15 लाख 85 हजार 117 पदों में से महिला पुलिसकर्मियों की संख्या 84 हजार 479 है.

जहां तक बिहार की बात है तो यहां कुल 68 हजार पुलिसकर्मियों में महिलापुलिसकर्मियों की तादाद 1485 है जो प्रतिशत के लिहाज से 2.18 प्रतिशत है.

हालांकि पिछले दिनो नीतीश कुमार ने राज्य पुलिस बल में महिलाओं के लिए 35 प्रतिशत आरक्षण देने की घोषणा की है जो एक क्रांतिकारी कदम साबित हो सकता है. अगर नीतीश सरकार ने अपने इस फैसले पर अमल करना शुरू कर दिया तो आने वाले कुछ सालों में बिहार इस मामले में एक इतिहास रच सकता है जिसका अनुसरण निश्चित तौर पर अन्य राज्यों को करना होगा.

उत्तरप्रदेश में 2 हजार 586 महिला पुलिसकर्मी हैं जो कि कुल पुलिस बल का महज 1.5 प्रतिशत हैं.

देश भर में महिलाओं के प्रति अपराध के आंकड़ें काफी चौकाने वाले हैं. 2011 में मिहलाओं के खिलाफ 2 लाख 29 हजार मामले दर्ज किये गये इनमें केवल बलात्कार के 24 हजार से ज्यादा मामले सामने आये हैं.

महिलाओं के खिलाफ अपराध के सर्वाधिक मामले मध्य प्रदेश में दर्ज किये जाते हैं. इस राज्य में महिला पुलिसकर्मियों की संख्या 3 हजार है. जबकि पुलिस बल की कुल संख्या यहां 76 हजार 500 है. यानी यहां मिहला पुलिस कर्मियों का अनुपात पुरुष कर्मियों की तुलना में लगभग 4 प्रतिशत है.

महाराष्ट्र और तमिलनाडु ऐसे राज्य हैं जहां अपेक्षाकृत महिला पुलिसकर्मियों का अनुपात ठीक है. महाराष्ट्र में 100 पुलिसकर्मियों में लगभग 15 प्रतिशत महिलायें हैं. इसी तरह तमिलनाडु में महिलाकर्मियों का प्रतिशत 10. 5 प्रतिशत है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*