प्रधानमंत्री ने की मिथिलांचल की उपेक्षा: पप्पू यादव

राजद सांसद राजेश रंजन व उर्फ पप्‍पू यादव ने कहा है कि हम सिर्फ व्‍यवस्‍था में सुधार के लिए मांग ही नहीं करते हैं, बल्कि उस दिशा में काम भी करते हैं। आज पटना में संवाददाता सम्‍मेलन में उन्‍होंने कहा कि  उनकी पहल और आग्रह पर पटना के प्रमुख चिकित्‍सालय अटलांटिस होस्‍पीटल ने गरीब मरीजों के लिए न्‍यूनतम लागत पर जांच की सुविधा उपलब्‍ध कराने का निर्णय लिया है। अस्‍पताल में कम लागत पर मेडिकल परामर्श भी दिया जाएगा। यह सुविधा पूरे राज्‍य के गरीब लोगों के लिए उपलब्‍ध होगी। इस मौके पर अस्‍पताल के संचालक प्रकाश चंद्र यादव  ने कहा कि लागत मूल्‍य पर हर प्रकार की चिकित्‍सीय व जांच की सुविधाएं अस्‍पताल में उपलब्‍ध होंगी।20141110_143153

 

 

श्री यादव ने कहा कि मंत्रिमंडल के विस्‍तार में मिथिला का उपेक्षा की गयी है। सरकार में अतिपिछड़ों, महादलितों व ब्राह्मणों को कोई प्रतिनिधित्‍व नहीं दिया गया है। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद भले अतिपिछड़ी जा‍ति से आते हों, लेकिन वह आरएसएस के मार्गदर्शन में सरकार चला रहे है। आरएसएस वैचारिक रूप से वंचित समाज के हितों के खिलाफ रहा है। राजद सांसद ने राज्‍य सरकार से मांग की कि गुटखा, पान मसाला के बाद शराब की बिक्री पर भी रोक लगायी जाए। उन्‍होंने अपने आंदोलन कार्यक्रमों की घोषणा करते हुए कहा कि 24 नंवबर को पूर्णिया में आंदोलन की शुरुआत की जाएगी। इसके बाद 15 दिसंबर को भागलपुर व 20 दिसंबर को आरा में आंदोलन की शुरुआत की जाएगी।

 

राजद नेता ने कहा कि राजद व जदयू के नेताओं में कोई मतभेद नहीं है। महागठबंधन के सभी नेता राज्‍य के विकास के लिए मिलकर काम कर रहे हैं। राजद सांसद पप्‍पू यादव ने मुख्‍यमंत्री जीतनराम मांझी से मुलाकात की और कोसी के विकास को लेकर चर्चा की। इस दौरान उन्‍होंने बिहार के राजनीतिक व सामाजिक मुद्दों पर भी चर्चा की। सांसद ने अपनी पहल से गरीबों के लिए उपलब्‍ध करायी जा रही चिकित्‍सीय सुविधाओं की जानकारी भी मुख्‍यमंत्री दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*