बालदिवस उपहार: मुस्लिम, पिछड़े, गरीबों को फ्री कोचिंग का ऐलान

एलिट इस्टिच्यूट के निदेशक अमरदीप झा गौतम ने बाल दिवस के अवसर पर ‘एलिट-21’ योजना की शुरुआत की घोषणा की।

प्रेस को संबोधित करते अमरदीप झा गौतम

प्रेस को संबोधित करते अमरदीप झा गौतम

उन्होंने इस अवसर पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि हाशिये के लोगों के प्रति सामाजिक दायित्व को पूरा करने के उद्देश्य से एलिट ने मुस्लिम, पिछड़े और आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों को इंजिनियरिंग व मेडिकल की मुफ्त कोचिंग ‘एलिट-21’ कार्यक्रम के तहत दी जायेगी।

हर वर्ग के लिए 7-7 सीट

एलिट इंस्टिच्यूट के निदेशक अमरदीप झा गौतम ने बताया कि ‘एलिट-21’ योजना के तहत 21 प्रतिभावान छात्रों का चयन किया जायेगा जिनमें मुस्लिम, पिछड़ा और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग यानी तीनों कटेगरी के प्रत्येक वर्ग के लिए 33.3 प्रतिशत छात्रों का नामांकन लिया जायेगा। इस प्रकार 7 मुस्लिम, 7 पिछड़े और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए 7 सीटें निर्धारित रहेंगी।

एलिट-21 में नामांकन के लिए एलिट इंस्टिच्यूट के पटना, बोरिंग रोड स्थित केंद्र पर जांच परीक्षा ली जायेगी. जांच की तिथि और विस्तृत व्योरा जल्द ही प्रकाशित की जायेगी।
एलिट इंस्टिच्यूट महंगाई और शिक्षा के बढ़ते खर्च के बावजूद होनहार छात्रों के लिए प्रत्येक वर्ष अलग से ज्ञानोदय योजना भी चलाता है। इसके तहत मुफ्त कोचिंग हर साल जनवरी में करायी जाती है. इस साल जनवरी में इस योजना का लाभ 142 छात्रों उठाया था। जबकि पिछले वर्ष इस योजना का से 128 छात्र लाभान्वित हुए थे।

2013 में एलिट इंस्टिच्यूट के 30 छात्रों ने जेईई-एडवांस में सफलता अर्जित की है। इससे पहले संस्थान के 87 छात्रों ने जेईई-मेंस में बाजी मारी. नीट पीएमटी में 27 बच्चों ने सफलता हासिल की थी।
अमरदीप झा गौतम ने कहा कि उनके संस्थान से जेईई-मेंस में सफल 87 में से मात्र 60 छात्रों ने जेईई-एडवांस की परीक्षा दी थी जिनमें 30 का चयन हुआ।

संस्थान के निदेशक अमरदीप झा गौतम ने बताया कि एलिट इंस्टीच्यूट इंजिनियरिंग और मेडिकल की तैयारी कराने वाला संस्थान है जो पिछले 13 सालों से बेहतर परिणाम देने के लिए जाना जाता है। संस्थान छात्रों को पढ़ाई की हर आधुनिक सुविधा उपलब्ध कराता है। उन्हें ऑफलाइन और ऑनलाइन टेस्ट की सुविधा के साथ, टेस्ट सीरीज और लाइब्रेरी की सुविधा भी दी जाती है। संस्थान में जेईई व नीट के लिए इंटिग्रेटेड और टारगेट कोर्स, 12 वीं के लिए फाउंडेशन कोर्स और इंटिग्रेटेड कोर्स भी कराया जाता है.साथ ही हरेक छात्र को डेली प्रेक्टिस पेपर( डीपीपी) भी दिया जाता है जो को कोचिंग के लास्ट क्लास पर आधारित होता है।

उन्होंने कहा कि सामाजिक और आर्थिक रूप से पिछड़े छात्रों के लिए संस्थान विशेष स्कॉलरशिप योजना का संचालन करता है इसके अलावा संस्थान की तरफ से छात्राओं के प्रोत्साहन के लिए उन्हें विशेष स्कॉलरशिप दी जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*