बिजली और धान खरीद के संबंध में फैलाया गया भ्रम

जदयू नेता श्याम रजक और सहकारिता मंत्री अलोक मेहता ने विधानसभा सत्र के अंतिम दिन पत्रकारों से बात करते हुए कहा
नौकरशाही डेस्क, पटना

महागठबंधन ने बोला हमला

महागठबंधन ने बोला हमला

बिजली के मामले में भाजपा ने भ्रम फैलाया था, जो सीएम ने पूरी तरह खत्म कर दिया है. बिहार 2942 करोड़ रुपये की सब्सिडी बिजली के मामले में देती है. यह कोई राज्य नहीं करता है. बिहार पड़ोसी उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल से कम बिजली बिल देती है. बिहार के किसानों, नौजवानों को भ्रमित करने का खुलासा हो गया. जो बीजेपी सुसंस्कृत राजनीति करने का दावा करती है वह चाल चरित्र और चेहरा विधान पर्षद की दुर्भाग्यपूर्ण घटना से सामने आ गया है. जदयू नेता श्याम रजक और सहकारिता मंत्री अलोक मेहता ने विधानसभा सत्र के अंतिम दिन पत्रकारों से बात करते हुए कहा.
विपक्ष ने सरकार की बात सुनने से किया परहेज: आलोक मेहता
धान खरीद के सबंध में बीजेपी की ओर से भ्रम फैलाया गया. बजट में हमने जनता के सामने स्पष्ट रूप से रख दिया तो विपक्षी सदस्य केवल बहिर्गमन करने में लगे रहे. यदि कोई बात सरकार की ओर से आती है तो उसके अनुरुप आचार व्यवहार करना विपक्षी का काम होता है. लेकिन विपक्ष के माननीय सदस्य ने सवाल को नहीं समझा और जवाब सुनने से परहेज किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*