बिहार दिवस: पटना समेत राज्य के हर जिलों में जश्न का माहौल

राजधानी पटना समेत बिहार के तमाम जिलों में  बिहार दिवस जश्न के रूप में मनाया जा रहा है. पटना में भी इस अवसर पर अनेक कार्य्रकम हुए और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने  राज्यवासियों को बिहार दिवस पर शुभकामनायें दीं.

बिहार शरीफ नालंदा से संजय कुमार  की रिपोर्ट

बिहाररीफ में भी भव्य आयोजन हुआ बिहार दिवस बिहार के अस्मिता का प्रतीक है. यह दिवस समस्त बिहार वासियो के लिये गौरव का दिन है. जिलाधकारी डॉ त्यागराजन एस एम ने श्रम कल्याण मैदान में विकास मेला के उद्घाटन के अवसर पर उक्त बातें कही.उन्होंने कहा कि जिलावासियों के सहयोग से  नालन्दा ने बुलंदियों की नई इबारतों को लिखा है. यहां के इन्नोवेटिव प्रोजेक्ट को देखने समझने बाहर से लोग आते हैं. उन्होंने लोगो को इस अवसर पर अपनी ओर से बधाई दी.

बिहार दिवस के 106 वें वर्षगांठ पर गुरुवार को जिलेभर में कार्यक्रमों की धूम रही. हर ओर उत्साह का माहौल रहा.सुबह से ही जिलेभर में कार्यक्रम शुरू हो गए .सबसे पहले सुबह सात बजे श्रम कल्याण केन्द्र के मैदान से प्रभातफेरी निकाली गई.इसमें शहर के सैकड़ों बच्चों ने भाग लिया. इसके अलावा हरदेव भवन, कलेक्ट्रेट परिसर, टाउन हॉल व जिलेभर में बच्चों की बीच रंगोली, क्वीज, मेहंदी, रंगोली, पेंन्टिंग व अन्य कार्यक्रम किए गए.

स्थानीय श्रम कल्याण  मैदान में मुख्य कार्यक्रम आयोजित किया गया.यहां 101 दिव्यांगों के बीच ट्राईल साइकिल का वितरण किया गया.
डॉ. त्यागराजन एस एम, एमएलसी रीना यादव, डीडीसी सुब्रत कुमार सेन, नगर आयुक्त सौरभ जोरवाल व अन्य अधिकारियों ने की.एमएलसी ने कहा कि जिस समय बिहार झारखंड से अलग हुआ था उस समय यहां कुछ नहीं था.आज जीवन से लेकर मृत्यू तक के  लिए योजनाएं चल रही हैं.सरकार द्वारा चलाए जा रहे सात निश्चय योजना से गांवों का भी विकास हो रहा है.जल्द ही जिले के  सभी गांव स्मार्ट हो जाएंगे.संसाधनों की कमी के बावजूद बिहार हर दिन तरक्की कर रहा है.

डीएम डॉ. त्यागराजन  ने कहा कि नालंदा हर दिन नई ऊंचाइयों को छू रहा है. एक के बाद कई अवार्ड मिल चुका है. नालंदा खंडहर को वल्र्ड हैरीटेज में शामिल किया गया. बिजली व मनरेगा के क्षेत्र में बेहतर कार्य के लिए भी नालंदा को सम्मानित किया गया है. इसके अलावा जीविका, सात निश्चय योजना, खुले में शौच मुक्त, नीरा में राज्य में अव्वल, कृषि के क्षेत्र व अन्य विभागों में भी काम हो रहे हैं.15 अगस्त 2018 से पहले जिले को खुले में शौच मुक्त बनाने का काम चल रहा है.इसमें आम जन का सक्रिय सहयोग जरूरी है.
बुधवार को यूके से आए लोगों ने जिले में चल रहे लोक शिकायत निवारण कानून को समझा और साफ शब्दों में कहा कि  ऐसी सुविधा यूके में भी नहीं है.

डीडीसी सुब्रत कुमार ने कहा कि 15 से 20 दिनों के अंदर में जिले के सभी पंचायतों में रथ घूमेगा. रथ के माध्यम से लोगों को खुले में शौच से होने वाली बीमारियों के बारे में बताया जाएगा. उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा चल रही सभी योजनाओें का स्टॉल लगाया गया है. यहां आने वाले लोगों को उसकी जानकारी दी जा रही है.
नगर आयुक्त सौरभ जोरवाल ने बिहारशरीफ के स्मार्ट सिटी बनने एवं इसके लिये कियाजा रहे प्रयासों की जानकारी दी.
कार्यक्रम को बाल संरक्षण आयोग के पूर्व अध्यक्ष अरुण वर्मा  सहित अन्य लोगों ने भी संबोधित किया.
जिलाधिकारी एव अतिथियों ने विकास मेला में लगे विभिन्न स्टालों का निरीक्षण भी किया.
बिहार शरीफ नालंदा से संजय कुमार की  रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*