बिहार में नल जल का प्लान 2020: 2019-20 तक सभी वार्ड में पहुंचेगा नल का जल

– पंचायती राज मंत्री ने कहा, एक सप्ताह में सभी जिलों को भेज दिया जायेगा मॉडल एस्टीमेट तैयार करके
नौकरशाही डेस्क, पटना

बिहार में नल जल का प्लान 2020: 2019-20 तक सभी वार्ड में पहुंचेगा नल का जल

बिहार में नल जल का प्लान 2020: 2019-20 तक सभी वार्ड में पहुंचेगा नल का जल

बिहार में सरकार ने हर घर नाल जल योजना का 2020 प्लान बनाया है.यानी 2020 तक हर हाल में हर वार्ड तक नल से जल पंहुचा दिया जायेगा. पंचायती राज मंत्री कपिलदेव कामत ने कहा कि वित्तीय वर्ष 2019-20 तक राज्य की सभी पंचायतों के वार्डों में नल के जल की सुविधा मुहैया करा देने का लक्ष्य है. सभी वार्ड को नल के जल से जोड़ दिया जायेगा. इसके लिए वित्तीय वर्ष 2016-17 में 620 करोड़ रुपये स्वीकृत किये गये हैं, जिसमें हर घर नल का जल और नाली-गली बनाने का प्रावधान किया गया है. उन्होंने कहा कि इस योजना के लिए एक सप्ताह के अंदर सभी जिलों को मॉडल प्राकलन (एस्टीमेट) तैयार करके भेज दिया जायेगा. इसके आधार पर ही अब सभी जिलों में कार्य कराया जायेगा. उन्होंने कहा कि इस योजना के लिए 14वें वित्त आयोग से 40 फीसदी और पंचम राज्य वित्त आयोग की अनुशंसा के रूप 45 फीसदी रुपये उपलब्ध कराये गये हैं. इसके अलावा शेष रुपये राज्य सरकार अपने स्तर पर खर्च करेगी.
जिला परिषद सदस्यों को सदस्य बनाने पर विचार
जिला परिषद के स्थानीय सदस्यों को त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था में पंचायत समिति की बैठक में पदेन सदस्य के रूप में शामिल करने पर विचार किया जायेगा. विधान परिषद में पंचायती राज मंत्री ने यह घोषणा की. वह सुबोध कुमार के सवाल का जवाब दे रहे थे. उन्होंने इस सवाल के जवाब में पहले कहा कि इस तरह का फिलहाल कोई प्रावधान राज्य सरकार के पास नहीं है कि वह पंचायत समिति की बैठक में जिला परिषद के सदस्यों को पदेन सदस्य के रूप में मनोनीत किया जाये. मंत्री का जवाब सुनने पर सत्तापक्ष और विपक्षी दल के सदस्य हंगामा करने लगे और सरकार पर ऐसा प्रावधान करने की घोषणा करने के लिए मंत्री पर दबाव डालने लगे, लेकिन मंत्री ने सिर्फ इतना ही कहा कि इस पर गंभीरता से विचार किया जायेगा. ऐसा प्रावधान करने पर स्पष्ट घोषणा तो अभी नहीं की जायेगी, लेकिन सरकार मामले पर विचार करेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*