बीमारियों के उन्मूलन के लिए जागरूकता जरूरी

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय तथा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के संयुक्त तत्वावधान में मिशन इंद्रधनुष और मातृ-शिशु स्वास्थ्य विषय पर बिहार सहित देश के चिन्हित जिलों में दो चरणों में सघन जागरूकता अभियान चलाया गया।pib

 

 

जागरूकता अभियान के दोनों चरणों के समापन पर पटना में आयोजित कार्यक्रम में राज्य सूचना आयुक्त अरुण कुमार वर्मा ने कहा कि बच्चों से संबंधित विभिन्न प्रकार की बीमारियों के उन्मूलन में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय तथा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की विभिन्न इकाइयों का योगदान बहुमूल्य है। राज्य के वरीय शिशु चिकित्सक डॉक्टर एस.पी श्रीवास्तव ने बताया कि देश में प्रति वर्ष दो सौ सत्तर लाख शिशु जन्म लेते हैं जिनमें से ग्यारह लाख शिशुओं की मौत हो जाती है।   क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय, पटना के निदेशक विजय कुमार ने बताया कि मिशन इंद्रधनुष और मातृ-शिशु स्वास्थ्य को लेकर राज्य के नौ जिलों में चौतीस समेत देश के तीन सौ अरसठ जिलों में छह सौ छियासी कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इन कार्यक्रमों में संपूर्ण टीकाकरण की विस्तृत जानकारी के साथ-साथ आम लोगों के लिए निःशुल्क चिकित्सा शिविर लगाये गये।

 

 

मौके पर उपस्थित पत्र सूचना कार्यालय के निदेशक दिनेश कुमार ने कहा कि इस तरह की जनकल्याणकारी योजनाओं व कार्यक्रमों के प्रचार-प्रसार का मूल उद्देश्य अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करना तथा कार्यक्रमों के अनुरूप मांग पैदा करना है।  सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के उपनिदेशक बिदु भूषण ने कहा कि मिशन इंद्रधनुष तथा मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य अभियान बहुत सफल कार्यक्रम है।  कार्यक्रम में उपस्थित दूरदर्शन के केंद्र अध्यक्ष पी.एन. सिंह,  यूनीसेफ की मीडिया विशेष़्ज्ञ निपुण्ह गुप्ता, क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी छपरा अजय कुमार भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*