बैगूसराय पुलिस के इस शानदार कारनामे पर बधाई तो बनती है !

बेगूसराय पुलिस ने एक कामयबा आप्रेशन में 30 लाख की फिरौती के लिए अपहृत 4 वर्षीय कन्हैया कुमार को पटना जिला के बख्तियारपुर से बरामद कर लिया गया है.

बेगूसराय एसपी राजीव मिश्रा, बरामद बच्चा

बेगूसराय एसपी राजीव मिश्रा, बरामद बच्चा

महफूज राशिद, बेगूसराय से

इस मामले में पुलिस की टीम ने छापेमारी के दौरान 2 महिला समेत 8 अपहरणकर्ताओं को भी गिरफ्तार किया है।

20 मई को हुआ था अपहरण

इस सम्बन्ध में प्रेसवार्ता के दौरान जानकारी देते हुए एसपी रंजीत कुमार मिश्रा ने बताया कि 20 मई की संध्या को चेरिया बरियारपुर थाना क्षेत्र के विक्रमपुर स्थित बूढी गंडक बांध पर खेलने के दौरान मनीष कुमार सिंह के 04 वर्षीय पुत्र कन्हैया कुमार का अपहरण अपराधकर्मियों द्वारा कर लिया गया था।जिस सम्बन्ध में चेरिया बरियारपुर थाना में कांड संख्या 84/16 के तहत मामला दर्ज किया गया।

अपहरण के बाद अपराधकर्मियों द्वारा फोन कर के 30 लाख की फिरौती की मांग की गयी।अपहरण की सुचना मिलते ही पुलिस हरकत में आई और तीन नामजद अपराधकर्मियों को गिरफ्तार कर लिया।गहन पूछताछ करने पर गिरफ्तार सोनू ने अपना अपराध कबुल किया और उसी के निशानदेही पर पुलिस ने पटना जिले के बख्तियारपुर से अपहृत बच्चे को नवीन सिंह के घर से बच्चे को बरामद कर लिया।

ये हैं अपहरणकर्ता
गिरफ्तार अपराधियों में विजय राम,फुचो सिंह,सोनू कुमार,रामबाबू कुमार,नवीन सिंह, ललन कुमार सिंह,विमला देवी और बेबी देवी शामिल हैं।घटना में प्रयुक्त मोबाइल फोन एवं मोटरसाइकिल को भी बरामद किया गया है।घटना के 36 घंटे के अंदर अपहृत की त्वरित करवाई करते हुए सकुशल बरामदगी की गयी अन्यथा अपहृत बच्चा के साथ कोई अप्रिय घटना की पूरी आशंका थी क्योंकि अपहरण में इनके परिजन भी शामिल थे।

छापेमारि टीम में मो0 इरशाद आलम,चेरिया बरियारपुर थानाध्यक्ष राघवेंद्र कुमार सिंह,नावकोठी थानाध्यक्ष ब्रजेश कुमार सिंह,छौड़ाही ओपीअध्यक्ष सर्वजीत कुमार,चकिया ओपीअध्यक्ष राजरतन,एफसीआई ओपीअध्यक्ष शैलेश कुमार, जीरोमाइल ओपीअध्यक्ष अजय कुमार अजनवी,लोहियानगर ओपीअध्यक्ष जितेंद्र कुमार,चेरिया बरियारपुर पु0 अ0 नि0 शम्भू कुमार सिंह,पवन कुमार सिंह सहित चिता बल थे।

अपहरण के कारण-बच्चे का अपहरण कोई और नही सिर्फ उसके सगा संबंधी वालों ने किया था।इस बात का खुलासा गिरफ्तारी के बाद हुआ।गिरफ्तार विमला देवी अपहृत बच्चे के पिता मनीष कुमार के मौसेरा भाई की सास है।एक दिन उसने मनीष कुमार से कर्ज माँगा था जिसमे मनीष ने अपनी असमर्थता जताई थी। इसी आक्रोश में इनलोगों ने अपना जाल बिछा कर बच्चे का अपहरण कर फिरौती की मांग किया था।

One comment

  1. बेगुसराय पुलिस की शानदार करिश्मा शब्द बेहतर रहता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*