बोधी वृक्ष की शरण में आके मोदी ने कहा कट्टर लोग अपनी विचारधारा थोपते हैं

पीएम नरेंद्र मोदी शनिवार को बोधगया पहंचे और अंतरराष्ट्रीय हिंदू-बौध सम्मेलन को संबोधित करते हुए बुद्ध और कृष्ण को महान टीचर बताया. मोदी ने कहा कि हिंदू और बौद्ध मिल कर टकराव खत्म कर सकते हैं.modi

इससे पहले मोदी बोधी वृक्ष के नीचे मेडिटेशन भी किया.

उन्होंने कहा कि आज हम भारत के महान टीचर सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिन मना रहे हैं और ही जन्म आष्टमी भी है.

मोदी ने कहा कि कृष्ण और बुद्ध, दोनों ने सिद्धांतों को अहमियत दी. श्रीकृष्ण ने कर्मयोग और समानता सिखाई तो बुद्ध ने इसे दुनिया में फैलाया. उन्होंने कहा भगवान कृष्ण और गौतम बुद्ध, दोनों ने दुनिया को बहुत कुछ दिया है.

मोदी ने जोर देते हुए कहा कि कुछ कट्टर लोग जबरन अपनी विचारधारा थोपते हैं. इससे अशांति फैलती है. हिंदू-बौद्ध समाज टकराव का पक्षधर नहीं है. दोनों शांति के रास्ते पर चलने की नसीहत देते हैं.

 

इससे पहले मोदी जब बिहार आये तो उनकी अगवानी के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मौजूद नहीं थे.

हिंदू-बौध अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन विवेकानंद इंटरनेशनल फाउंडेशन, इंटरनेशनल बुद्धिस्ट कनफेडरेशन और टोक्यो फाउंडेशन द्वारा संयुक्त रूप से किया जा रहा है.

इस सम्मेलन में श्रीलंका की पूर्व राष्ट्रपति चंद्रिका कुमारतुंगा के अलावा वियतनाम, जापान, नेपाल और भूटान के सीनियर नेता भी शामिल हो रहे हैं.

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*