भगवा नीति के खिलाफ ‘ग्रीन ब्रेकर’ बनाने की बनी रणनीति

बिहार विधानसभा के चुनाव में महागठबंधन के घटक  राष्ट्रीय जनता दल को मिली अपार सफलता के बाद पार्टी राष्ट्रीय स्तर पर  समान विचारधारा वाले धर्मनिरपेक्ष दलों को गोलबंद कर भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार की भगवा नीति के विरोध में  आंदोलन शुरू करेगी । rjd
राजद के प्रदेश अध्यक्ष डा0 रामचन्द्र पूर्वे और राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज झा ने  पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा कि बैठक में पार्टी के संविधान में किये जाने वाले संशोधन, राजनीतिक, आर्थिक, कृषि ,  शिक्षा, विदेश नीति और अल्पसंख्यकों के हित से जुड़े प्रस्ताव के प्रारूप पर चर्चा की गयी । इन सभी प्रस्तावों के प्रारूप पर खुलकर चर्चा भी की गयी ।उन्होंने कहा कि सभी प्रस्ताव कल पेश किये जायेंगे ।
इन नेताओं ने केन्द्र में भाजपा के नेतृत्व में सरकार गठन के बाद से भगवाकरण पर अधिक बल दिया जा रहा है, जो चिंता का विषय है । केन्द्र की सरकार शिक्षा के क्षेत्र में अपनी इस नीति को विस्तार देने में लगी है । उन्होंने कहा कि केन्द्रीय शैक्षणिक संस्थाओं में  राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े हुए लोगों को पदस्थ किया जा रहा है । इसी कड़ी में बिहार के एक केन्द्रीय विश्व विद्यालय के कुलपति संदीप पांडेय को हटा दिया गया । दोनों नेताओं ने कहा कि केन्द्रीय विश्व विद्यालयों में सामाजिक न्याय से जुड़े लोगों को जहां हटा दिया जा रहा है, वहीं संघ से जुड़े चुनींदा लोगों को बैठाया जा रहा है । इसी तरह भाजपा शासित राज्यों में शिक्षा का भगवाकरण किया जा रहा है और पाठ्यक्रमों को भी बदलने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है । उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी अपने सामाजिक एवं राजनीतिक दायित्व के बल पर ही अभी तक मजबूती के साथ है और इस मुद्दे को लेकर आंदोलन खड़ा करेगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*