भागलपुर में दस करोड़ की सरकारी राशि के गबन की जांच शुरू

बिहार आर्थिक अपराध इकाई (इओयू) की टीम ने भागलपुर में सृजन महिला विकास सहयोग समिति लिमिटेड और इंडियन बैंक की मिलीभगत से हुयी दस करोड़ रुपये से अधिक की सरकारी राशि के गबन मामले की जांच शुरु कर दी। 

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि इओयू के पुलिस महानिरीक्षक जी. एस. गंगवार के नेतृत्व में आई टीम ने सृजन महिला समिति और इंडियन बैंक के चार-पांच कर्मचारियों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरु कर दी है। गबन के इस मामले में जिला प्रशासन की ओर स्थानीय तिलकामांझी थाने में दर्ज कराई गई प्राथमिकी की प्रतिलिपि और पुलिस द्वारा समिति के सबौर स्थित कार्यालय से जब्त किए गए कागजातों की टीम के सदस्यों ने जांच की।  सूत्रों ने बताया कि टीम ने इसके अलावा जिला प्रशासन और पुलिस अधिकारियों से भी जानकारियां हासिल की। हालांकि इस संबंध में विस्तृत जानकारी नहीं मिल सकी है।

 

गौरतलब है कि भागलपुर समाहरणालय स्थित जिला विकास शाखा ने वर्ष 2014 में 10 करोड़ 20 लाख 15 हजार रुपये का एक चेक इंडियन बैंक के नाम से निर्गत की थी। उक्त राशि मुख्यमंत्री नगर विकास योजना के खाते में जमा होनी थी, लेकिन बाद में पता चला कि यह राशि मुख्यमंत्री नगर विकास योजना के खाते में जमा न होकर सृजन महिला समिति के खाते में जमा कर दी गई है।
सूत्रों ने बताया कि इंडियन बैंक और सृजन समिति की मिलीभगत से इतनी बड़ी सरकारी राशि का गबन किया गया। फिलहाल उक्त खाते से दस करोड़ 26 लाख 58 हजार रुपए गायब हैं। मामले की जानकारी मिलने के बाद जिलाधिकारी के निर्देश पर नजारत शाखा के लिपिक ने इंडियन बैंक के प्रबंधक और सृजन महिला विकास सहयोग समिति के सभी पदाधिकारियों के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*