‘भाजपाइयों! जंगल राज की परिभाषा आपकी सहूलत से नहीं होगी’

उपमुख्यमंरी तेजस्वी यादव ने भाजपा पर कड़ा प्रहार करते हए कहा है कि न्यूज हेडलाइन मैनेज करने से वह न तो पक्ष में सरवाइव कर सकती है और न ही विपक्ष में.tejaswi

तेजस्वी ने दिल की बात फेसबुक पर लिखी है. उन्होंने कहा है कि NDA के नेता किसी और ही मिट्टी से बने हैं | नकारात्मक चुनाव प्रचार के कारण हारे ये राजनीति के तथाकथित दिग्गज हार के बाद भी कोई सबक लेने से साफ इंकार कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि अपनी गर्त में जाती राजनीति को पुनः चमकाने के लिए भाजपा छिछले आरोपों द्वारा ब्रांड बिहार के चमक को कुरेद कुरेद कर परत दर परत उतारने का प्रयास करना कितना सही है? ऐसी अपरिपक्व एवं नकारात्मक राजनीति से हानि बिहार के मान की होती है, बिहार की जनता की होती है |

मीडिया को बनाया निशाना

तेजस्वी ने अप्रत्यक्ष रूप से  मीडिया पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा- सनसनी पैदा करने के लिए आपसी सम्पत्ति विवाद, पारिवारिक रंजिश इत्यादि के कारण होने वाली हत्याओं की असली वजह छुपाकर इस प्रकार पेश किया जाता है कि जैसे वे संगठित अपराध का हिस्सा हों और उसे सरकार का संरक्षण प्राप्त हो? एक ही अपराध को अलग अलग चश्मों से दिखाने का प्रयास किया जाता है | घड़ियाली आँसू बहाकर राजनीति चमकाई जाती है | पुलिस द्वारा कार्रवाई को जानबूझ कर या तो प्रकाशित ही नहीं किया जाता है या फिर उसे कमतर आँका जाता है.

बिहार का अपमान

इस बात से कोई इनकार नहीं कर सकता कि देश के सुरक्षा ठिकानों पर आतंकी हमले हो रहे है, पुलिस अधीक्षक का अपहरण हो जाता है, मेरे देश की माटी पर बार-बार पाकिस्तानी झंडे फहराये जा रहे है.  उन्होंने कहा  मैं बगैर राजनीति किये ईमानदारी से पूछना चाहता हूँ क्या ऐसी कुछेक घटना होने के कारण देश में जंगलराज है? अगर बिहार में कुछेक ऐसी घटना होने के कारण यहाँ जंगलराज है तो फिर देश में भी जंगलराज एवं आंतकराज होना चाहिये| माननीय भाजपाई नेताओं को मालूम होना चाहिए कि जंगलराज की परिभाषा आपकी सहूलियत से नहीं होगी? बिहार में नकारात्मक राजनीति के दिन अब लद गए हैं |

तेजस्जवी ने कहा कि जंगल राज  के जुमले को बिहार की जनता ने अपना अपमान माना और लम्बे समय से बिहार की जनता को इस अपमानजनक उपाधी से नवाज़ने वालों को उनका सही स्थान दिखा दिया | बिहार की बौद्धिक एवं न्यायप्रिय जनता ने बीजेपी द्वारा बिहार को जंगलराज कह कर देश भर में दुष्प्रचारित करने की कोशिश को नाकाम करते हुए ये बता दिया कि बिहार के सच्चे हितैषी कौन है और उनको पूर्ण बहुमत के साथ बिहार की सत्ता सौंप दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*