भाजपाइयों नेेेे किया राष्ट्र ध्वज का अपमान, छात्र संघों ने किया ऐलान तिरंंगा का अपमान नहीं सहेगा हिंदुस्तान

बेगूयराय लोकसभा क्षेत्र से  भाजपा सांसद डा. भोला सिंह की तिरंगा यात्रा के दौरान उलटा तिरंगा लेकर घूमने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है .एक ओर जद यू,भारतीय कम्यूनिष्ट पार्टी व कांग्रेस के छात्र संगठनों ने भोला सिंह का पुतला जलाया तो कुछ तिरंगे के अपमान नहीं सहेगा हिंदुस्बतान का नारा लगाया.

सांसद भोला सिंह की यात्रा में उलटा तिरंगा( सोशल मीडिया में वायरल फोटो)

सांसद भोला सिंह की यात्रा में उलटा तिरंगा( सोशल मीडिया में वायरल फोटो)

शिवानंद गिरी, बेगूसराय से

हांलाकि भोला सिंह के कार्यकर्ता इसे मानवीय भूल मान विरोधियों द्वारा बेवजह मामले को तूल देने की बात कह रहें हैं.

 

दरअसल ,भाजपा की तिरंगा यात्रा के अंतिम दिन भोला सिंह का काफिला तेघड़ा होते हुए बीहट आया .इसी क्रम में उनके साथ चल रहे एक भाजपा कार्यकर्ता उलटा तिरंगा लेकर पूरे कार्यक्रम के दौरान घूमता रहा.आरोप तो यहग भी है कि सांसद ने भी उलटा झंडा थाम रखा था लेकिन गलती का अहसास होते ही उन्होंने सुधार कर लिए.

जदयू, कांग्रेस के छात्र संगठन आंदोलन पर

जब इस बात की जानकारी छात्र संगठन के नेताओं को हुई तब उनलोगों ने फोटो खिंचकर इसे न सिर्फ सोशल मीडिया पर जारी कर दिया बल्कि विरोध प्रर्दशन करने का ऐलान तक कर दिया.

एआईएसएफ,छात्र समागम व  एनएसयूआई के छात्रों ने समाहरणालय  पर  ‘तिंरगे का अपमान ,नहीं सहेगा हिन्दुस्तान ‘ के नारों  के बीच भाजपा सांसद का पुतला फूंका.

इधर एआईएसएफ के नेता अविनाश कुमार कहते हैं ‘भाजपा सांसद द्वारा उल्टा तिरंगा लेकर घूमने और स्वतंत्रता सेनानी शहीद वीरउचित सिंह स्मारक पर उलटा झंडा फहराने के विरोध में छात्र संगठनों ने पुतला दहन किया है. नेताओं ने कहा तिरंगे का अपमान करने वाले को कतई बर्दाश्त नहीं करेगा छात्र संगठन’ .

तिरंगा यात्रा का नेतृत्व सांसद भोला सिंह कर रहे थे

तिरंगा यात्रा का नेतृत्व सांसद भोला सिंह कर रहे थे

 

बैकफुट पर भाजपा

वहीं दूसरी ओर इस घटना के बाद बैकफुट पर आ चुकी बीजेपी अपने सांसद के बचाव में आ गई है .

बेगूसराय के बीजेपी नेता  व वरीय अधिवक्ता अमरेन्द्र कुमार ‘अमर ‘कहते हैं ,’तिरंगा यात्रा तिरंगें के स्वभिमान व शहीदों के सम्मान के लिए निकला था  न कि अपमान के लिए. झंडे के हवा में उड़ जाने के बाद किसी ने गलती ले उलटा झंडा लगा दिया जिसका अहसास होते  ही सीधा कर दिया गया.

 

बहरहाल,मामला चाहे जो भी हो लेकिन इतना  तो तय है कि एक छोटी  सी भूल ने  बेगूसराय की राजनीतिक फिजां गरमा जरूर दिया है. गौरतलब है कि राष्ट्रध्वज को उलटा टांगना तिरंगे का अपमान है.

ऐसे में तिरंगा पर राजनीति करने के उद्देश्य से तिरंगा यात्रा पर निकली भाजपा खुद तिरंगा के अपमान में घिर गयी है. याद रहे कि भाजपा ने 15 अगस्त से 23 अग्सत तक देश भर में तिरंगा यात्रा कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*