भाजपा की ओर सरक रहे मांझी

आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए तेजी से बढ़ रही राजनीतिक सरगर्मियों के बीच पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने नर्इ दिल्‍ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। मोदी-मांझी की मुलाकात ऐसे समय में हुई है, जब बिहार चुनाव से पहले भाजपा में उनके शामिल होने को लेकर अटकलें लगायी जा रही हैं।download

 

मोदी से की मुलाकात

पिछले दिनों संचार एवं प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा था कि श्री मांझी को भाजपा में शामिल किया जा सकता है। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने भी कहा था कि श्री मांझी के लिए भाजपा के दरवाजे खुले हैं। लेकिन श्री मांझी ने प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद इन अटकलों को गलत बताया कि वह भाजपा में शामिल होने के सिलसिले में श्री मोदी से मिले थे। हिन्दुस्तान अवाम मोर्चा के प्रमुख श्री मांझी ने कहा कि उन्होंने बिहार में किसानों की समस्याओं और उनकी आत्महत्या की घटनाओं की तरफ ध्यान दिलाने के लिए प्रधानमंत्री से मुलाकात की।

 

सूत्रों के अनुसार वह भाजपा में शामिल होने की अपनी संभावनाओं को तलाशने के लिए दिल्ली आए हुए हैं। गौरतलब है कि पिछले दिनों राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने भी उन्हें अपनी पार्टी में शामिल किए जाने की बात कही थी, लेकिन श्री मांझी ने अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं कि वह किसी पार्टी में शामिल होंगे या किसके साथ चुनावी गठबंधन करेंगे। जनता दल यूनाइटेड से निष्कासित होने के बाद श्री मांझी ने अपनी पार्टी बना ली थी। जदयू के नेताओं ने श्री मांझी पर आरोप लगाया था कि वह भाजपा के एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं और जनता दल परिवार में उन्हें शामिल किए जाने का कोई प्रश्न ही नहीं उठता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*