भाजपा के मुख्‍यमंत्रियों की बैठक में चुनावी रणनीति पर हुई चर्चा

भारतीय जनता पार्टी ने पार्टी द्वारा शासित सभी राज्यों में लोकसभा चुनाव की तैयारियों के क्रम में उनके मुख्यमंत्रियों एवं उप मुख्यमंत्रियों के केन्द्र एवं राज्य सरकार की गरीब कल्याण योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन की समीक्षा और 2019 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में पहले से अधिक बहुमत से सत्ता में आने का संकल्प लिया।


भाजपा की मुख्यमंत्री परिषद की बैठक के बारे में जानकारी देते हुए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनावों तथा मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ एवं राजस्थान के विधानसभा चुनावों की तैयारियों पर बात हुई और संकल्प लिया गया कि विधानसभा चुनावों में जीत हासिल करने के बाद 2019 में पहले से अधिक बहुमत के साथ श्री मोदी को प्रधानमंत्री बनाएंगे।
डॉ. सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी पूरे समय बैठक में मौजूद रहे और उन्होंने कहा कि किसानों की रबी एवं खरीफ दोनों फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य लागत का डेढ़ गुना करने, राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिये जाने,  अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोगों के अत्याचार के खिलाफ अधिकार मज़बूत करने जैसे निर्णयों सभी वर्गों को प्रभावित किया है।

 

डॉ. सिंह ने कहा कि बैठक में असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर पार्टी का रुख साफ किया गया कि देश में अवैध घुसपैठियों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्हें हटाया जाएगा। बैठक में नागरिकता संशोधन विधेयक के बारे में भी बताया गया कि पड़ोसी देशों -पाकिस्तान एवं बंगलादेश के अल्पसंख्यकों अपने धर्म, संस्कृति एवं अपना वजूद बचाने के लिए आने पर नागरिकता दी जाएगी। इसके लिए फास्ट ट्रैक अदालतें गठित की जाएगीं।
बैठक में 19 मुख्यमंत्रियों और उप मुख्यमंत्रियों ने शिरकत की। बैठक में प्रधानमंत्री श्री मोदी, केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री अरुण जेटली और सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*