भाजपा ने जनप्रतिनिधि और अफसरशाही के बीच दुविधा को खत्‍म किया

भारतीय जनता पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों का आह्वान किया कि वे केन्द्र सरकार के साथ मिलकर अपने-अपने राज्यों में गरीबों के कल्याण के लिये समर्पित एक ऐसी राज व्यवस्था का निर्माण करें, जहां प्रत्येक व्यक्ति को विकास योजनाओं का लाभ मिले और उनके जीवन में बदलाव आये । श्री शाह ने नई दिल्‍ली के  महाराष्ट्र सदन में पार्टी शासित राज्यों मुख्यमंत्रियों की एक दिवसीय बैठक का उद्घाटन किया।

NEW DELHI, AUG 27 (UNI)- BJP President Amit Shah flanked by Union Minister of Urban Development and Informationa and Broadcasting M Venkaiah Naidu during Chief Ministers' Conference (Mukhyamantri Parishad) in New Delhi on Saturday. UN PHOTO-15u

 

 

भाजपा शासित राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों का हुआ सम्‍मेलन

 

इस अवसर अपने संबोधन में श्री शाह ने कहा कि हमने जनप्रतिनिधि और अफसरशाही के बीच की दुविधा को भी ख़त्म किया है। हमने यह व्यवस्था कर दी है कि नीति निर्माण का कार्य जन-प्रतिनिधि करेंगें तथा उसके क्रियान्वयन की जिम्मेदारी नौकरशाहों की होगी। सरकार ने वोट बैंक की परवाह किये बगैर सुधारों को दृढ़ता के साथ लागू किया है। मुद्रा योजना, मेक इन इंडिया, स्टार्ट-अप इंडिया, स्टैंड-अप इंडिया के माध्यम से हमने युवाओं के लिए भी सफलता के नए द्वार खोले हैं।  उन्होंने कहा कि भाजपा ने देशभर में ‘पॉलिटिक्स ऑफ़ परफॉरमेंस’ का एक नया युग शुरू किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा का लक्ष्य देश में निर्णायक, पारदर्शी, भ्रष्टाचार विहीन, संवेदनशील, गतिशील और गरीबों के लिये कल्याण के प्रति समर्पित सरकार देना है।

 

 

उन्होंने कहा कि केन्द्र में भाजपा के नेतृत्व वाली नरेन्द्र मोदी सरकार ने सीमाओं को सुरक्षित किया है। देश में समृद्धि को बढ़ाने के साथ-साथ भारतीय संस्कृति को दुनिया भर में प्रतिष्ठित किया है तथा देश के मान-सम्मान को एक नई ऊंचाई दी है। इससे पूरी दुनिया और राजनीतिक विश्लेषकों का भी भारत को देखने का नजरिया बदला है। श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में केंद्र सरकार ने शहरों के विकास पर ध्यान दिया है और गांवों के विकास के प्रति भी समर्पण भाव दिखाया है। सरकार ने उद्योगों के साथ-साथ कृषि के विकास और किसानों के कल्याण के लिए भी कई कदम उठाये हैं। लघु उद्योगों के साथ-साथ बड़े उद्योगों पर भी ध्यान दिया है।
उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने प्रशासन को कई प्रकार की दुविधाओं से बाहर निकाला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*