भाजपा विधायक टुन्ना पांडेय पर चलती ट्रेन में छेड़खानी का आरोप, हिरासत में भेजे गये

राजद विधायक को छेड़खानी मामले में घेरने वाली भाजपा की गर्दन खुद लड़की को छेड़ने के मामले में फंस गयी है. उसके विधायक टुन्ना पांडेय को चलती ट्रेन से उतार कर हिरासत में ले लिये गये हैं.

टुन्ना पांडेय शराब कारोबारी हैं

टुन्ना पांडेय शराब कारोबारी हैं

बिहार से सीवान के अरबों रुपये के शराब कारोबारी रहे और रिश्वत मामले में चर्चित हुए टुन्ना पांडे को छेड़खानी के आरोप में हाजीपुर में हिरासत में ले लिया गया है.

 

यह वही टुन्ना पांडेय हैं जिन्होंने 2013 में बिहार के एक डीआईजी रैंक के अफसर आलोक कुमार पर दस करोड़ रिश्वत मांगने का आरोप लगाया था जिसके बाद आलोक को निलंबित कर दिया गया था.

सीवान से भाजपा एमएलसी टुन्ना जी पाण्डेय को हाजीपुर जीआरपी ने  रविवार सुबह  गिरफ्तार कर लिया। इनकी गिरफ़्तारी आप पूर्वांचल एक्सप्रेस की एसी टू बोगी ए-1 में सफ़र के दौरान हुई.

उनकी बोगी में अपने पिता के साथ सफ़र कर रही 14 वर्षीया एक लड़की ने एमएलसी पर छेड़खानी का आरोप लगाया। इस मामले एमएलसी पर एफआई आर दर्ज की गई है।

भाजपा की बोलती बंदी

गौरतलब है कि पिछले दिनों राजद के विधायक सरफराज आलम पर भी ट्रेन में छेड़खानी का आरोप लगा था. उसके बाद भाजपा ने राजद पर जम कर हमला बोला था. इसके बाद सरफराज को राजद ने निलंबित कर दिया था. लेकिन अब खुद भाजपा के विधायक ऐसे ही आरोप में हिरासत में लिये गये हैं. अब इस मामले में भाजपा की जब खुद ही गर्दन फंस गयी है तो देखना  है कि वह इस मामले से कैसे निपटती है.

मजबूरन निलंबित करेगी भाजाप

लेकिन इस मामले में भाजपा के पास बस एक ही विकल्प है कि वह टुन्ना पांडेय को निलंबित कर देगी. क्योंकि ऐसे ही मामले में राजद विधायक के फंसने के बाद भाजपा ने जोरदार हमला किया था. अब उसके विधायक खुद फंस गये हैं. चूंकि उस मामले में राजद ने सरफराज को निलंबित कर दिया था तो भाजपा के पास बस यही रास्ता है कि वह टुन्ना पांडेय को तत्तकाल निलंबित कर देगी.

बदनामी के दाग पहले से ही

टुन्ना जी पांडेय का नाम पहले से ही कई विवादों से जुड़ा रहा है. 2013 में पांडे ने आरोप लगाया था कि सीवान क्षेत्र के तत्कालीन डीआईजी आलोक कुमार ने उनसे दस करोड़ की रिश्वत मांगी थी. इसके बाद हुए हंगामें में आलोक को सस्पेंड कर दिया गया था. लेकिन आलोक का कहना था कि पांडेय उन्हें फंसाने की साजिश रची. याद रहे की टुन्ना पांडे को बड़े शराब माफिया के तौर पर जाना जाता है. बिहार में शराबबंदी के बाद उनका कारोबार यूपी शिफ्ट हो गया है.

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*