भारत-पाक सुलह की बढ़ी उम्मेदें, अभिनंदन का लौटना तय,ट्रम्प को ‘अच्छी’ खबर की उम्मीद

भारत-पाक सुलह की बढ़ी उम्मेदें, अभिनंदन का लौटना तय,ट्रम्प को ‘अच्छी’ खबर की उम्मीद

भारत पाकिस्तान के बीच तनाव अपने उच्चतम बिंदु पर है. दूसरी तरफ इसी बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि दोनों देशों से ज्लद ही अच्छी खबर मिलने की उम्मीद है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ये बात वियतनाम में कही है. ट्रम्प ने जाहिर है यह तब कही होगी जब भारत-पाक के उच्च नेतृत्व के वह सम्पर्क में रहे होंगे. और दोनों देशों के शीर्ष नेतृत्व ने उन्हें कुछ सकारात्मक संकेत दिये होंगे. 

इस बीच बबीसी के अनुसार पाकिस्तानी प्रधान मंत्री इमरान खान ने पार्लियामेंट के संयुक्त सेशन में घोषणा की है कि विंग कमांडर अभिनंदन को शुक्रवार को भारत को सौंप दिया जायेगा.

नौकरशाही रिसर्च ब्यूरो

संभव है भारत और पाकिस्तना ने उन्हें ऐसा कुछ भरोसा दिलाया भी होगा. लेकिन एक बात साफ स्पष्ट है जिसे भारत ने पाकिस्तान को कह दिया है. ये बात है विंग कमांडर भिनंदन के बारे में. भारत ने पाकिस्तानी सरकार को स्पष्ट संकेत दे दिया है कि उसे सैन्य अधिकारी विंग कमांडर अभिनंदन को बिना शर्त भारत भेजने की गारंटी चाहिए. उधर शाम होते होते पाकिस्तानी प्रधान मंत्री इमरान खान ने अपनी संसद में घोषणा कर दी कि अभिनंदन को शुक्रवार को भारत को सौंप दिया जायेगा.

 

भारत-पाक सुलह की उम्मीदें

इससे पहले  भारत ने अभिनंदन की रिहाई सुनिश्चित करने की बात इसलिए भी कही है क्योंकि उसे संदेह है कि 1999 में आतंकी मसूद अजहर, जो भारत में गिरफ्तार था उसके एवज में आतंकवादियों ने सौ से ज्यादा भारतीय के बदले डील की थी. ये भारतीय यात्री काठमांडु से दिल्ली आ रहे थे, इसी बीच आतंकियों ने विमान का अपहरण कर लिया था और उसे कंधार ले गये थे. तब अटल बिहारी वाजपेयी सरकार ने इन यात्रियों की सुरक्षा के एवज आतंकी मसूद अजहर को छोड़ा था.

 

इधर ताजा सूरते हाल यह है कि 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले में, जिसमें 44 सीआरपीएफ जवान शहीद हुए थे, उसके जवाब में भारत ने पाकिस्तानी सीमा में घुस कर 26 फरवरी को एयर स्ट्राइक किया था. इसके बाद पाकिस्तान की तरफ से 27 फरवरी को भारतीय सीमा का उल्लंघन करने की खबर आयी थी. पाकिस्तान ने दावा किया था कि उसने बालाकोट हमले का जवाब दिया और भारत के 2 मिग 21 विमान मार गिराये. जबकि भारत ने भी पाकिस्तान के एफ16 विमान को खदेड़ कर तबाह कर दिया था.

विंग कमांडर अभिनंदन

इसी क्रम में विंग कमांडर अभिनंदन का विमान क्रश हुआ और वह पाकिस्तानी सीमा में विमान से गिरे. उन्हें पाकिस्तान ने अरेस्ट कर लिया. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता जनरल आसिफ गफूर ने इस संबंध में प्रेस वक्तव्य दिया और कहा कि अभिनंदन हमारे कब्जे में है.

 

इधर भारत को जब इस बात की जानकारी मिली और सोशल मीडिया पर अभिनंदन का विडियो वॉयरल हुआ तो भारत ने पाकिस्तान दूतावास के प्रमुख को तलब किया और साफ कह दिया कि हमारे सैन्य अधिकारी के साथ किसी भी तरह के अमानवीय सुलूक उसे बर्दाश्त नहीं है.

 

भारत और पाकिस्तान के इस बदले रुख से जो संकेत मिले हैं  और राष्ट्रपति ट्रम्प ने जो अच्छी खबर मिलने की उम्मीद जताई है, उससे यह आभास होने लगा है कि कोई तीसरी शक्ति है जो भारत और पाकिस्तान के बीच में सुलह कराने के प्रयास में है.

 

उधर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की यह उम्मीद, कि जल्द ही भारत-पाकिस्तान से अच्छी खबरें आयेंगी, जहां शांति चाहने वालों के लिए शुभ संकेत तो है पर यह भी निश्चित है कि भारत किसी भी कीमत पर विंग कमांडर की सकुशल वापसी के बदले कोई शर्त नहीं स्वीकार करेगा.

दर असल विंग कमांडर की पाकिस्तान में गिरफ्तारी भाजपा सरकार के लिए राजनीतिक नुकसान का कारण भी बन सकता है. क्योंकि जहां एक तरफ भारतीय जनता पार्टी पुलवामा में शहीद 44 जवानों की तस्वीरें अपने चुनावी मंच पर लगा कर राजनीतिक लाभ लेने में लगी है वहीं उसे विंग कमांडर की गिरफ्तारी उसके लिए राजनीतिक नुकसान का कारण बनने का संदेह है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*