मदरसा शम्सुल होदा, पटना में आयोजित होने वाला सम्मेलन होगा ऐतिहासिक :  नैय्यरुज्जमां

मदरसा शम्सुल होदा, पटना में आयोजित होने वाला सम्मेलन होगा ऐतिहासिक :  नैय्यरुज्जमां

देश  में ऐसी कई समस्याएं हैं जिनके हल के लिए आम लोग परेशान हैं। वे विभिन्न सामाजिक एवं राजनैतिक नेताओं के इर्द-गिर्द चक्कर लगाते हैं, लेकिन समस्याएं हल होने की बजाय पेचीदा हो रही हैं। इन समस्याओं का सही और शाष्वत हल इस्लाम के पास मौजूद है। इसके लिए जमाअत इस्लामी हिन्द, पटना के तत्वावधान में रविवार 17 फरवरी, 2019 को राजधानी पटना स्थित मदरसा शम्सुल होदा में आयोजित होने वाला सम्मेलन ऐतिहासिक होगा।

नैय्यरुज्जमां

नौकरशाही डेस्‍क

उक्‍त बातें आज प्रेस विज्ञप्ति जारी कर जमाअत इस्लामी हिन्द बिहार के अध्यक्ष नैय्यरुज्जमां ने कहीं। उन्‍होंने कहा कि आज जरूरत इस बात की है कि खुद भी इस्लाम की इन शिक्षाओं से वाकिफ हों और समस्याओं से जूझ रहे नागरिकों को भी जानकारी पहुंचाएं।

See This 

उन्होंने बताया कि सम्मेलन से अंतरराष्ट्रीय इस्लामी स्‍कॉलर, जमाअत इस्लामी हिन्द के अध्यक्ष और ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल बोर्ड के उपाध्यक्ष सैयद जलालुद्दीन उमरी संबोधित करेंगे। संबोधन का शीर्षक है ‘मुल्क व मिल्लत की सूरते हाल और उम्मते मुस्लिमा की जिम्मेदारियां।

See This :

उन्‍होंने कहा कि संबोधन में मुसलमानों का संपूर्ण रूप से मार्गदर्शन किया जाएगा। सम्मेलन से राष्ट्रीय स्तर के सामाजिक कार्यकर्ता और जमाअत इस्लामी हिन्द के सचिव डॉ मोहम्मद सलीम इंजीनियर और जमाअत इस्लामी हिन्द के उपाध्यक्ष नुसरत अली भी संबोधित करेंगे।

नैय्यरुज्जमां ने अपील करते हुए कहा कि इस सम्मेलन में मुसलमानों को मसलक से ऊपर उठकर स्त्री-पुरुष  समेत बड़ी संख्या में लोगों को शरीक होना चाहिए। सम्मेलन मगरिब की नमाज के बाद शुरू होगी अशा की नमाज तक जारी रहेगी।

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*