मधेपुरा सांसद पप्‍पू यादव ने दी शहीद रतन कुमार ठाकुर के परिजनों को एक लाख रूपए की आर्थिक मदद

मधेपुरा सांसद पप्‍पू यादव ने दी शहीद रतन कुमार ठाकुर के परिजनों को एक लाख रूपए की आर्थिक मदद

जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्‍ट्रीय संरक्षक सह सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने आज पुलवामा आतंकी हमले में शहीद भागलपुर के एकचारी गांव निवासी शहीद रतन कुमार ठाकुर के परिजनों को नकद एक लाख रूपए की आर्थिक मदद की। साथ ही उन्‍होंने शहीद के पिता से उनकी बेटी की शादी की जिम्‍मेवारी लेने की बात कही। 

Pappu Yadav

नौकरशाही डेस्‍क

इससे पहले सांसद ने रतन कुमार ठाकुर की तस्‍वीर पर माल्‍यार्पण कर उन्‍हें नम आखों से श्रद्धांजलि दी। बीते दिनों रतन कुमार ठाकुर पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हो गये थे। घटना के बाद सांसद पप्‍पू यादव ने उनके परिजनों को एक लाख रूपये देने की घोषणा की थी। इसी क्रम में सांसद ने आज शहीद के परिजनों को आर्थिक मदद की। साथ ही, उन्‍होंने सरकार से मांग की कि शहीद रतन कुमार ठाकुर के नाम पर स्‍थानीय चौक का नाम हो और वहां उनकी प्रति मूर्ति भी स्‍थापित की जाये।

बाद में पप्‍पू यादव ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि राज्‍य की सरकार हमेशा सीमा पर शहीद होने वाले जवानों के प्रति असंवेदनशील रही है। इसी भागलपुर में चार अन्‍य फौजी व सीआरपीएफ के जवान भी पिछले दिनों शहीद हुए। तब मुख्‍यमंत्री और डीएम तो छोडिये, डीएसपी भी उन्‍हें श्रद्धांजलि देने नहीं गए। आज तक उनके परिजनों को 4 लाख रूपए सरकार नहीं दे सकी है। इसलिए हम सरकार से शहीदों के परिजनों की मदद के लिए गंभीर होने की मांग करते हैं। कम से कम शहीदों पर वे राजनीति न करें।

सांसद ने कहा कि सीमा पर होने वाली हर आतंकी घटना में पिछले दिनों इंटेलिजेंस का फेल्‍योर प्रमुख कारण रहा है। जब अमेरिका की ओर से 15 दिन पहले आतंकी हमले की आशंका जताई गई थी, फिर उस पर हमारे इंटेलिजेंस गंभीर क्‍यों नहीं हुए। सेना के काफिले पर आतंकियों द्वारा विस्‍फोटक भरी गाड़ी की टक्‍कर बड़ी बात है, जो इशारा करते हैं कि इसमें कहीं ने कहीं देश के अंदर के गद्दारों का भी हाथ है। वो कौन हैं, उनको बाहर लाने की जरूरत है। 70 सालों में भी हमारे देश का इंटेलिजेंस पर काम क्‍यों नहीं किया गया? क्‍योंकि सरकार इंटेलिजेंस के प्रति उदासीन रही है।

 

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*