मांझी का दूसरा आक्रमण, लिया विधानसभा भंग करने का फैसला

मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी  ने विधानसभा भंग करने की सिफारिश राज्यपाल से करने का फैसला लिया है. आज दो पहर उनके आवास पर बुलायी गयी कैबिनेट की बैठक में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह ने विधानसभा भंग करने की सिफारिश का प्रस्ताव पेश किया.

file

file

इससे पहले मांझी ने अपने दो कैबिनेट मंत्रियों ललन सिंंह और पीके शाही को मंत्रिमंडल से बर्खास्त करने की सिफारिश राज्यपाल को भेजी, जिसे बताया जाता है कि राज्य पाल ने स्वीकार कर लिया है.

लेकिन इसमें 21 मंत्रियों ने इसकी मुखालफत की जबकि 5 ने हिमायत की.

 

मुख्यमंत्री मांझी आखिर तक विधानसभा भंग करने के निर्णय पर अडिग रहे और मंत्रियों के भारी विरोध के बावजूद उन्होंने राज्यपाल से विधानसभा को भंग करने की सिफारिश करने का निर्णय लिया.

दूसरी तरफ जनता दल यू के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव ने राज्यपाल को आज होने वाली विधायक दल की बैठक के बारे में पहले से ही सूचित कर रखा है. बैठक में तमाम एमएलए को बुलाया गया है. अब से कुछ देर बाद असेम्बली एनेक्सी में यह बैठक होने वाली है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*