माईगोव प्‍लेटफार्म से जुड़े 35 लाख से अधिक लोग

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने माईगोव पोर्टल का महत्व रेखांकित करते हुये आज कहा कि यह प्लेटफॉर्म वैसे लोगों के लिए है, जो देश का विकास चाहते हैं।  श्री प्रसाद ने नई दिल्‍ली में सरकार के माईगोव प्लेटफॉर्म के दो वर्ष पूरे होने पर आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि माईगोव प्लेटफॉर्म देश के बारे में सोचने वालों और उसके विकास में अपना योगदान सुनिश्चित करने वालों के लिए है। मैं चाहता हूँ कि यह एक ऐसा प्लेटफॉर्म बने जहाँ देश के वैसे लोगों की उपलब्धियाँ प्रदर्शित की जायें, जिन्हें टेलीविजन पर नहीं दिखाया जाता।

Ravi Shankar Prasad, Minister of Communications and Information Technology of India at the World Economic Forum - India Economic Summit 2014 in New Delhi, Copyright by World Economic Forum / Benedikt von Loebell

 
उन्होंने कहा कि माईगोव टीम का लक्ष्य इस पोर्टल से 10 से 15 करोड़ लोगों को जोड़ना होना चाहिये। आजाद भारत में ऐसा पहली बार हुआ है, जब देश के प्रधानमंत्री ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर उनके भाषण किन विषयों पर हों इसके बारे में लोगों से सलाह माँगी है। डिजिटल इंडिया को देश की नियति बताते हुये उन्होंने कहा कि डिजिटल माध्यमों को स्वीकृति की बदौलत ही सरकार के कामकाज में आई पारदर्शिता से वैश्विक आर्थिक विकास की सुस्त रफ्तार के बावजूद भारतीय अर्थव्यवस्था लगातार बढ़ रही है। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 26 जुलाई 2014 को लांच किये गये माईगोवइंडिया पोर्टल का उद्देश्य देश में अच्छे शासन के लिए लोगों का सरकार के साथ सीधा संवाद स्थापित करना है। इस पोर्टल से अब तक 35.2 लाख लोग जुड़ चुके हैं तथा इस पर 589 विषयों पर चर्चा हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*