माई नेम इज आजम खान, मैं आतंकवादी नहीं हूं

उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री आजम खान अमेरिका के बोस्ट एयरपोर्ट पर सफाई देते रहे लेकिन उनकी सुनने वाला कोई नहीं था.azam

बताया जा रहा है कि खान नाम जुड़े होने के कारण शाहरुख खान की तरह उन्हें भी एयर पोर्ट पर डिटेन किया गया.

आजम और शाहरुख खान में भले ही खान नाम की समानता हो पर आजम खान के पास डिप्लोमेटिक वीजा था फिर भी उन्हें देर तक रोका गया. उनके कपड़े, बैग और जिस्म की बार बार तलाशी ली गयी.
आजम खान के निजी सचिव खुर्शीद आलम द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि आजम खान ने कहा कि जीवन में इतना अपमान उन्हें कभी नहीं सहना पड़ा.

आजम खान मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ हार्वड विश्विद्यालय में आमंत्रित किया गया है. अखिलेश को वहां कुम्भ मेले की सफलता पर एक लेक्चर देने के लिए आमंत्रित किया गया था.
बोस्टन वही जगह है जहां पिछले दिनों मैराथन के दौरान बम विस्फोट हुआ था.

बताया जाता है कि अमेरिकी सुरक्षा सिस्टम में खान जैसे नाम को कम्प्यूटर चेक करने की सूचना देता है. लगता है आजम खान भी शाहरुख की तरह फंस गये.
आजम को यह कहना पड़ा कि वह डिप्लोमेटिक बीजा पर आये हैं तब भी किसी ने उनकी एक न सुनी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*