मीडिया का ‘मसाला’ बन रहे हैं नौकरशाह

नीतीश कुमार की नयी पारी में नौकरशाही की खूब चल रही है। मंत्री हाशिए पर चले गए हैं और अधिकारी  खबू जम रहे हैं। अब खबर भी अधिकारी ही बन और बना रहे हैं।naukar 4

नौकरशाही ब्‍यूरो

 

आज राजधानी पटना में दो बड़े कार्यक्रम हुए, जिसमें नौकरशाहों के चेहरे ही चमके। होलट पाटलिपुत्र अशोक में आपदा प्रबंधन विभाग के कार्यक्रम में मुख्‍य सचिव अंजनी कुमार सिंह, आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव व्‍याज जी और आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के उपाध्‍यक्ष एके सिन्‍हा (सेवानिवृत्‍त आइएएस) ही चर्चा में रहे। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार का कोई विकल्‍प नहीं है, लेकिन आपदा प्रबंधन विभाग के मंत्री लेसी सिंह हासिए पर ही रहीं। इस कार्यक्रम में व्‍यास जी की जापान यात्रा कार्यक्रम का केंद्र बिंदू बना रहा।

 

हाशिये पर मंत्रीnaukar 3

उधर राजभवन में आयोजित एक पुस्‍तक लोकार्पण कार्यक्रम में भी खबर नौकरशाह ही थे। कृषि उत्‍पादन आयुक्‍त विजय प्रकाश की पुस्‍तक का लोकार्पण कार्यक्रम था। इसका लोकार्पण राज्‍यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने किया। इस मौके पर राज्‍यपाल के प्रधान सचिव ब्रजेश मेहरोत्रा भी मंचासीन थे। शिक्षा मंत्री पीके शाही की उपस्थिति औपचारिकता भर रह गयी थी।

नीतीश के नये कार्यकाल में नौकरशाही नये फॉर्म में दिख रही है। मं‍त्री हासिए पर ही नजर आ रहे हैं। सीएमओ के वरीय अधिकारी की मानें तो नीतीश की शेष अवधि में कामकाज का पूरा दारोमदार अधिकारियों पर ही है। क्‍योंकि मंत्री अब सरकार चलाने के बजाये टिकट और सीट बचाने की जुगत में लग गए हैं। वे नये ‘खुंटे और खलिहान’ की संभावना की तलाश भी कर रहे हैं। चुनावी वैतरणी के लिए आधार खोज रहे हैं। यही कारण है कि नीतीश मंत्रियों को हासिए पर धकेल अधिकारियों पर भरोसा जता रहे हैं और विकास का पतवार भी नौकरशाही को सौंप दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*