मॉडल बलात्कार: आरोपी डीआईजी के समर्थन में कूदी शिवसेना

महाराष्ट्र में एक मॉडल के कथित बलात्कार के आरोपी डीआईजी सुनील पारस्कर के बचाव में शिवसेना कुद पड़ी है. वह मुख्यपत्र में जमकर पारसकर के सपोर्ट में उतर गयी है

पारस्कर:आरोपों के घेरे में

पारस्कर:आरोपों के घेरे में

एक अंग्रजी अखबार में प्रकाशित खबर के अनुसार पीड़िता मॉडल ने पुलिस को कहा है कि पारसकर ने पूनम पांडे की वजह से उनका रेप किया क्योंकि पूनम पांडे पारसकर के बहुत नजदीक थी. इतना ही नहीं पीड़िका मॉडल ने पारसकर और पूनम पांडे के संबंधों के बारे में भी पुलिस को बताया है। हालांकि पूनम पांडे की तरफ से इस मामले को लेकर अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है.
उधर इस मामले के तूल पकड़ने के बाद शिवसेना ने इस मामले पारस्ककर को क्लीरन चिट देते हुए कहा है कि आजकल बड़े और रसूखदार लोगों पर बलात्काइर का आरोप लगाना एक फैशन बन गया है. शिवसेना ने यह बात अपने मुखपत्र सामना में डीआईजी का बचाव करते हुए कही.

शिवसेना ने सामना में लिखा है कि डीआईजी पारस्कपर ने पुलिस में रहते हुए इतने सालों तक अपनी सेवाएं दीं और एक मॉडल ने बलात्काीर आरोपी बनाकर उनको रातों-रात खलनायक बना दिया है. इसके साथ ही यह निजी दुश्मानी निभाने का भी हथियार बनता जा रहा है.

23 जून को मुंबई की रहने वाली ग्लैडरेग्स मॉडल ने पारासकर के खिलाफ बलात्कार का केस दर्ज कराया था. मॉडल ने अपनी शिकायत में दावा किया था कि नवंबर 2013 से मार्च 2014 के बीच पारासकर ने उसका यौन शोषण किया. इस दौरान पारासकर मुंबई पुलिस में अतिरिक्त कमिश्नर थे. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी अधिकारी और पीडिता के बीच मोबाइल फोन पर संदेशों का आदान प्रदान हुआ था.

पारासकर ने अपने बर्ताव के लिए मॉडल से माफी मांगी थी. ये मैसेज दो मौकों पर भेजे गए थे. एक बार उस वक्त जब पारासकर मॉडल को नवी मुंबई स्थित फ्लैट में लेकर गए थे और दूसरी बार उस वक्त जब दोनों मुंबई के उपनगर में स्थित बंगले पर गए थे. हालांकि मॉडल ने इस संबंध में पुलिस को दिये बयान में कहा है कि दोनों बार परास्कर ने एसएमएस भेज कर उससे माफी भी मांगी है. पुलिस का कहना है कि वह परास्कर के मोबाइलक की फोरेंसिक जांच करेगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*