युद्ध के लिए मनोवैज्ञानिक रूप से तैयार जनता परिवार

किसी भी बड़ी जंग की असल तैयारी मनोवैज्ञानिक रूप से की जाती है और  अब तय हो चुका है कि पुराने जनता परिवार ने भाजपा के खिलाफ  एक हो कर जंग की तैयारी शुरू कर दी है. इसकी शुरुआत 22 दिसम्बर से मैदानी जंग के रूप में होगी.lalu_mulayam_reuters

दो दशक पुराना जनता परिवार एक हो कर भाजपा को चुनौती देने का फैसला कर चुका है मुलायम को इसकी रूप रेखा तैयार करने की जिम्मेदारी सौंपी गयी है दिल्ली में मुलायम, लालू नीतीश, शरद, केसी त्यागी,दैवगौड़ा समेत तमाम नेता मौजूद ते. भाजपा सरकार के खिलाफ आंदोलन की शुरुआत 22 दिसम्बर को विरोध प्रदर्श  से होगी.

मुलाय सिंह यादव के आवास पर हुई बैठक  के बाद नीतीश ने कहा कि जनता दल परिवार के एक साथ काम करने के मुद्दे पर पिछली बैठक में ही सहमति बन गई थी। मुलायम सिंह यादव को आज अधिकृत किया गया है कि वो जनता दल परिवार को एक दल में तब्दील करने के मुद्दे पर रूपरेखा तय करें। उन्‍होंने कहा कि सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव जनता परिवार के पूर्व छह घटकों द्वारा उनके आपस में विलय के लिए तौर तरीके तैयार करने के लिए अधिकृत किए गए हैं।

यो तीन मुद्दे

नीतीश ने कह कि काला दन की वापसी, किसानों की समस्या और युवाओं के रोजगार पर सरकार के रवैए के खिलाफ आंदोलन शुरू होगा.

नीतीश ने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि सरकार ने कालाधन लाने का वादा करते हुए कहा था कि हर गरीब के अकाउंट में लाखों रुपये होंगे, लेकिन अभी तक वो पैसे नहीं आए। वहीं किसानों के साथ भी नाइंसाफी की गई है।

इन नेताओं की कोशिश विपक्षी दलों का मोर्चा बनाकर भाजपा और पीएम मोदी के खिलाफ जनता को मजबूत विकल्प देने की है। मोर्चा बनाने के लिए एक बैठक बीती 8 नवंबर को भी हो चुकी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*