यूपी की चुनाव के मद्देनजर हुई भविष्य की राजनीति पर चर्चा

लखनऊ में समाज बचाओ आंदोलन के राष्ट्रीय कन्वेनर मोहम्मद काशिफ यूनुस और लखनऊ के सीनियर समाज सेवी ज़ैद अहमद फ़ारूक़ी ने उत्तर प्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता एवंम बहुजन समाज पार्टी के संस्थापक सदस्य गयाचरण दिनकर से उनके लखनऊ में विधानसभा स्थित चैम्बर में मुलाक़ात की।  kashif_)dinkarइस मुलाक़ात में बसपा के ज़रिये उत्तर प्रदेश में सरकार बनने पर प्रदेश के विकास के लिए बसपा की योजनाओं और खासकर अल्पसंख्यक और वक़्फ़ संपत्तियों के विकास के लिए बसपा की योजनाओं पर विस्तृत चर्चा हुई।

गयाचरण दिनकर ने कहा के के बसपा हमेशा से बहुजन समाज के विकास के लिए कटिबद्ध रही है और मुस्लिम समाज के विकास पर विशेष ध्यान दिया जायेगा। उन्होंविधानसभा में नया क़ानून पास कराने से भी बसपा सरकार गुरेज़ नहीं करेगी। उन्होंने कहा के वक़्फ़ सम्पात्तियों का विकास अखिलेश सरकार में नहीं हो पाया है बल्कि वक़्फ़ की ज़मीनों को जिन माफियाओं ने अनाधिकृत रूप से क़ब्ज़ा किया हुआ है इन माफियाओं को अखिलेश सरकार ने बढ़ावा देने का ही काम किया है. उन्होंने कहा के मुस्लिम संगठनों या  दूसरे समाज सेवी संगठनों द्वारा वक़्फ़ संपत्तियों के विकास के लिए जो भी योजनाएं दी जाएंगी उस पर पार्टी ज़रूर घर करेगी। उन्होंने ये भी कहा की मुस्लिम समाज के लोग बिना हिचक उनसे आकर उनके ऑफिस में या उनके आवास पर मिल सकते हैं और अपनी समस्यायें उनके सामने रख सकते हैं।  सरकार बनने पर भी उनका दरवाज़ा हमेशा की तरह खुला रहेगा.

मोहम्मद काशिफ यूनुस ने कहा के वक़्फ़ संपत्तियों के विकास के मसले को बसपा को दिल्ली के म्युन्सिपल और विधानसभा चुनावों में भी प्रमुख्यता से उठाना चाहिये क्योंके दिल्ली में बड़ी तायदाद में वक़्फ़ संपत्तियां लूट का शिकार है और इनका कोई पुर्साहान हाल नहीं है। इसपर जनाब गयाचरण दिनकर ने कहा की वो दिल्ली के पार्टी प्रभारी से इस सम्बन्ध में बात करेंगे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*