यूपी के मंत्री गायत्री प्रजापतिको बर्खास्त की भाजपा की मांग

भारतीय जनता पार्टी ने सपा के मंत्री द्वारा सपा के ही पूर्व एम.एल.सी. दयाराम प्रजापति को धमकाने की घटना को प्रदेश की कानून व्यवस्था के लिए चिन्ताजनक बताया। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डॉमनोज मिश्र ने सपा पर जोरदार हमला करते हुए कहा कि प्रदेश के खनन मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति द्वारा पूर्व एम.एल.सी. को धमकाने की घटना निन्दनीय है। प्रदेश के मंत्री बेलगाम लोग हैं। वे केवल आम जनता को ही नहीं वरन् अपनी पार्टी के एम.एल.सी. तक धमकाने से बाज नहीं आ रहे हैा। ऐसे मंत्री को बर्खास्त किया जाये।

 

लखनऊ से परवेज आलम

 

प्रवक्ता डॉमिश्र ने कहा कि सपा के पूर्व एम.एल.सी. दयाराम प्रजापति ने सपा सरकार के ही मंत्री पर गम्भीर अरोप लगाये है। लखनऊ के एस.एस.पी. और हजरतगंज थानाध्यक्ष को मंत्री के खिलाफ तहरीर दी गई है तथा स्वयं दयाराम प्रजापति ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष  मुलायम सिंह को अपनी जान की सुरक्षा की गुहार लगाई। उन्होंने आरोप लगाया कि सपा शासन में जब सपा के ही पूर्व एम.एल.सी. अपनी जान की रक्षा के लिए गुहार लगाये तो प्रदेश के हालात का अन्दाजा लगाया जा सकता है।
डॉमिश्र ने आरोप लगाया कि इन्ही मंत्री जी के पुत्र द्वारा अमेठी में जमीन के कब्जे की घटना को देखते हुए वहां के अधिवक्ता आन्दोलनरत है। सपा के मंत्रीगण, परिवारीजन और उनके करीबी प्रदेश में कानून व्यवस्था के लिए चुनौती बने हुए हैं। पूरे प्रदेश में सपाईयों द्वारा कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ाई जा रही है। पुलिस प्रशासन उनके सामने नतमस्तक है। भाजपाप्रवक्ता डॉमिश्र ने कहा कि दयाराम प्रजापति के आरोपों की जांच होनी चाहिए। मंत्री और उनके परिवारीजनों पर कार्यवाही होनी चाहिए क्योंकि देश देश में कानून से बड़ा कोई नहीं है। सपा सरकार के मंत्री को तत्काल सरकार से बर्खास्त किया जाये अथवा यह माना जायेगा कि मंत्री जी को सरकार का पूरा सरंक्षण प्राप्त है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*