ये आईसीसी क्या है जिसके उपाध्यक्ष सुनील मित्तल बनाये गये हैं?

भारती एंटरप्राइजेज के अध्यक्ष सुनील मित्तल को विश्व के सबसे बड़े व्यापारिक संगठन इंटरनैशनल चेंबर ऑफ कॉमर्स (आईसीसी) का उपाध्यक्ष चुना गया.आइए जानें आईसीसी के बारे में.

सुनील भारती मित्तल

सुनील भारती मित्तल

मित्तल आईसीसी के 93 साल के इतिहास में तीसरे भारतीय व्यापारी हैं जो आईसीसी के कार्यकारी बोर्ड में लिए गए हैं. इससे पहले भरत राम (1969-71) और हरिशंकर सिंघानिया (1993-94) को आईसीसी के कार्यकारी बोर्ड में शामिल किया गया था.

आईसीसी के सदस्य दुनिया भर के 130 देशों के व्यापारी हैं. 2000 से ज्यादा बिजनेस विशेषज्ञों की टीम कारोबार का वैश्विक अध्यन करती है. इसका सचिवालय पेरिस में है.आईसीसी के महत्व का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि विश्व व्यापार संगठन समेत दुनिया के तमाम देश इसके सम्पर्क में रहते हैं और इसकी विशेषज्ञता को महत्व देते हैं.

आईसीसी की स्थापना 1919 मे हुई जिसका मकसद व्यापार और निवेश को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ावा देना, उत्पादों और सेवाओं के लिए बाजार तलाशना और साथ ही पूंजी के स्वतंत्र फ्लो के लिए माहौल तैयार करना है.

वर्ल्ड कॉउंसिल

आईसीसी का सर्वप्रमुख अंग वर्ल्ड कॉउंसिल है. इसमें नेश्नल कमेटी के मेम्बर हुआ करते हैं और वर्ल्ड काउंसिल ही आईसीसी के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष का चनय करती है. इसी काउंसिल ने मित्तल को उपाध्यक्ष चुना है. आईसीसी के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का कार्यकाल दो साल का होता है.

पेरिस में है सचिवालय

आईसीसी का अंतरराष्ट्रीय सचिवालय पेरिस में हैं. जो आईसीसी का संचालन करता है. सचिवालय आईसीसी के कार्यक्रमों और कारोबारी नजरिये को अन्य अंतरराष्ट्रीय संगठनों के साथ साझा करता है, जो वैश्विक कारोबार को किसी न किसी तौर पर प्रभावित करते हैं. अंतरराष्ट्रीय सचिवालय का नेतृत्व महासचिव करता है जिसका चयन वर्ल्ड काउंसिल करता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*