ये हैं नीतीश के ‘कुर्मी भक्‍त’ सुबोध कुमार

किसी नेता में श्रद्धा रखने वालों की कोई कमी नहीं है। तरह-तरह के लोग अपने-अपने तरीके से नेताओं के प्रति विश्‍वास जताते हैं। बहुत लोग स्‍वार्थ भाव से और कुछ निस्‍वार्थ भाव से भी। ऐसे ही एक नीतीश भक्‍त हैं सुबोध कुमार। सीएम नीतीश कुमार की सभाओं में संबोधन के दौरान भीड़ से एक स्‍वर फुटेगा, जिसमें एक सुर से अपना उद्गार व्‍यक्‍त कर शांत हो जाएगा। इस युवक का नाम है सुबोध कुमार।

U

 

नौकरशाही ब्‍यूरो

 

कड़क आवाज का धनी यह युवक 15-20 सेकेंड के उद्गार में ही पूरी सभा का ध्‍यान अपनी ओर खींचने में सफल रहता है। 15 अगस्‍त को पटना जिले के फुलवारी प्रखंड के चिलबिली गांव में महादलित टोले में झंडोत्‍तोलन करवाने पहुंचे नीतीश कुमार की सभा में सुबोध मौजूद था। सीएम से पहुंचने के पूर्व भीड़ में ही उससे मुलाकात हुई। बातचीत में उसने बताया कि नीतीश की सभा में चिल्‍लाकर यशोगान करने वाले हम ही हैं। उसने बताया कि हम जाति के कुर्मी हैं और घर अरवल जिले सोनभद्र के पास कुर्मी टोला में है। हम नीतीश कुमार के मुख्‍यमंत्री बनने के एक साल पहले से उनकी सभाओं में आवाज लगाते रहे हैं। उसने बताया कि बिहार में नीतीश कुमार की हर सभा में वह पहुंचने की कोशिश करता है। सीएम हेलीकॉप्‍टर से जाते हैं और वह बस से पहुंचता है।

 

उसने बताया कि ‘नीतीश भक्ति’ दादी जी की कृपा है। पटना के गांधी मैदान के पास बैंक रोड में दादीजी मंदिर है। उसके पुजारी से 2004 में मुलाकात हुई थी। उन्‍होंने हमारा नाम ‘नीतीश’ पुकारना शुरू किया। इसके बाद से ही हम नीतीश कुमार के फैन हो गए। सुबोध ने बताया कि नीतीश कुमार के स्‍वजातीय होने से हमारी श्रद्धा का कोई संबंध नहीं है। 30 वर्षीय सुबोध एमए पास है। कैरियर की तलाश में है। उसने बताया कि नीतीश में उसकी श्रद्धा है। कभी-कभार सीएम से मुलाकात भी कर आता है। लेकिन उनसे कोई अपेक्षा नहीं रखता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*