रचनात्‍मक कार्यों को ज्‍यादा जगह दे मीडिया

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने देश के भविष्य निर्माण में मीडिया की भूमिका को महत्वपूर्ण बताते हुये उससे संसद की कार्यवाही के दौरान व्यवधानों की बजाय रचनात्मक चर्चा को ज्यादा जगह देने की अपील की।


श्री नायडू ने नई दिल्‍ली में कहा किकहा कि संसद की कार्यवाही के दौरान मीडिया को अनिवार्य रूप से रचनात्मक कार्यों रेखांकित करना चाहिये ताकि लोग उससे प्रभावित हो सकें। आपके ऊपर बड़ी जिम्मेदारी है। आज मीडिया में रचनात्मक चर्चा की जगह व्यवधान डालने वाले व्यवहार को ज्यादा जगह दी जा रही है।”
उन्होंने कहा कि आज मीडिया में ऐसा प्रचलन शुरू हो गया है जिसकी तारीफ नहीं की जा सकती। ‘न्यूज’ में ‘व्यूज’ मिलाकर पेश किया जा रहा है। फेक न्यूज और निहित स्वार्थों वाले समाचार दिखाये जा रहे हैं। खबरों को सनसनीखेज बनाने की कोशिश की जा रही है।

उपराष्ट्रपति ने कहा “देश के भविष्य के निर्माण में मीडिया की जिम्मेदार भूमिका है। आप लोगों को प्रभावित करने की क्षमता रखते हैं। एक समय था जब राजनीति, मीडिया और डॉक्टरी का पेशा मिशन माना जाता था, न कि मुनाफा कमाने का जरिया। उन्होंने मीडिया से लोगों के दु:खों और समस्याओं को उजागर करने तथा गलत करने वालों को बेनकाब करने की अपील की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*