राजद की रैली में शामिल नहीं होने का जदयू ने दिया इशारा, तल्खी बढ़ने का लगने लगा कयास

राष्ट्रपति चुनाव मामले में महागठबंधन से अलग राह अपनाने के बाद अब जद यू ने एक और नखरा दिखाया है. वरिष्ठ नेता श्याम रजक को यह कहते बताया गया है कि राजद की 27 अगस्त की रैली में उनके दल के शामिल होने का कोई औचित्य नहीं है.

श्याम रजक के हवाले से यह बयान मीडिया के एक हिस्से में कोट किया गया है. ध्यान रहे कि अभी जद यू की कार्याकिरणी की बैठक चल रही है लिहाजा बैठक के बाद इस बयान के निहतार्थ का पता चल सकेगा.

गौर तलब है कि आरजेडी ने 27 अगस्त को भाजपा भगाओ देश बचाओ रैली का आयोजन किया है. इससे पहले इस रैली में शामिल होने संबंधी मामले पर नीतीश कुमार के हवाले से यह कहा गया था कि जद यू उस रैली में शामिल होगी. लेकिन कार्यकारिणी की बैठक से ठीक पहले श्याम रजक के बयान के बाद राजद और जद यू के बीच के रिश्तों पर फिर तीखापन आने की बात कही जा रही है.

 

जदयू के श्याम रजक ने कहा कि राजद की 27 अगस्त को होने वाली रैली में जदयू के शामिल होने का कोई औचित्य नहीं है। श्याम रजक ने नीतीश कुमार के रैली में शामिल होने के सवाल पर कहा कि जब राजद की तरफ से निमंत्रण आएगा तब इस पर विचार किया जाएगा। यह पूरी तरह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निर्भर करेगा कि वो राजद की रैली में शामिल होते हैं या नहीं।

इस बीच राजद की 27 अगस्त की आयोजित रैली में मायावती, अखिलेश यादव और ममता बनर्जी के शामिल होने की संभावना है.

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*