राजपथ पर दिखा भारत का गौरव

दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा की मौजूदगी में राजपथ पर 66वें गणतंत्र दिवस की परेड देखने के लिए आज जनसैलाब उमड़ पड़ा। राजधानी दिल्ली और देश के दूसरे हिस्सों से आए लोग सुबह से ही कतारबद्ध हो गए थे और परेड शुरु होने के बाद भी उनके आने का सिलसिला जारी रहा। कई किलोमीटर पैदल चलना पडा और कई बार सुरक्षा घेरा भी टूटा, लेकिन लोगों ने इसकी परवाह नहीं की। कई पुलिसकर्मी तो यह कहते सुने गए कि गणतंत्र दिवस पर उन्होंने कभी ऐसी भीड नहीं देखी।mod

 

गणतंत्र दिवस पर सुरक्षा को लेकर कई दावे किए गए थे लेकिन ये सारे दावे आज भारी भीड़ के सामने हवा हो गए। राजधानी और देश के कोने-कोने से पहुंचे लोगों को खराब सुरक्षा व्यवस्था से दो-चार होना पडा। कई बार उनसे कहा गया कि हाउसफुल हो गया है और वे वापस चले जाएं। इससे भीड़ बेकाबू हो गयी और सुरक्षा घेरा तोडकर अंदर घुस गयी। परेड शुरु होने से पहले और परेड शुरु होने के बाद कई बार हल्की बारिश हुई, लेकिन यह गणतंत्र का जश्न मना रहे लोगों का हौसला नहीं डगमगा पायी। रातभर हुई बारिश के कारण सीटें गीली हो गयी थीं। लोगों ने शुरू में तो इन सीटों पर बैठने से परहेज किया लेकिन जैसे-जैसे भीड़ बढ़ती गयी लोग सीटों को साफकर उन पर बैठ गए।rajpat

 

यह पहला मौका था जब अमेरिका के किसी राष्ट्रपति को इतनी देर किसी आउटडोर कार्यक्रम में हिस्सा लेना पडा। इस दौरान करीब दो घंटे तक श्री मोदी और श्री ओबामा आपस में बातें करते रहे। अमेरिकी राष्ट्रपति भारत की समृद्ध संस्कृति और सैन्य शक्ति खासकर जांबाजों के करतब से अभिभूत नजर आए और एक..एक चीज के बारे में उन्होंने श्री मोदी से जानकारी ली। स्‍तंत्रता दिवस पर 15 अगस्त को सुरक्षाकर्मियों ने लोगों की काली बनियान और जुराबें उतरवा दी थी। गणतंत्र दिवस पर ऐसा तो नहीं हुआ लेकिन काले कपडे़ पहने लोगों की खास जांच की गयी। कई लोगों को काले मफलर ले जाने की इजाजत नहीं दी गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*