रामनवमी का दृश्य: बिहार में हिंदू तालिबान,’राजद के राज में गुंडे बदमाशी करते थे ये तो विशुद्ध आतंकवाद है’

रामनवमी पर पटना से वापसी के दौरान मदन तिवारी ने अपनी आंखों से जो देखा उसे आप भी पढ़िये. वह बता रहे हैं कि इस गुंडागर्दी से भाजपा सत्ता तो हासिल कर सकती है पर इन युवकों को रेपिस्ट व आतंकवादी बना के छोड़ देगी.

पटना से वापस आते समय मखदुमपुर में दिखा खौफनाक मंजर, रामनवमी का जुलूस,हाथ में तलवार लाठी, डंडा लिए हुए तकरीबन 200-300 युवक, अधिकतर नशे में चूर, भीड़ में 12-14 वर्ष के लड़के भी थे, रास्ता दोनों तरफ से जाम, हर ट्रक गाड़ी के ड्राइवर को जबर्दस्ती जय श्रीराम बोलने के लिए मजबूर कर रहे थे, गाड़ियों को डंडे से पिट रहे थे, एक गाड़ी में भोजपुरी फ़िल्म की महिला कलाकार थी. उस गाड़ी को घेरकर अश्लील हरकतें कर रहे थे, यह सबकुछ हिन्दू क्षेत्र में कर रहे थे, उन्हें गुंडा कहा जा सकता है लेकिन हिन्दू तो कतई नहीं.

 

देखकर लगा मुल्क को तालिबान बनाने की राह पर बढ़ा दिया है मोदी ने, राजद के गुंडाराज में गुंडे बदमाशी करते थे, रंगदारी मांगते या चन्दा मांगते थे परंतु आज जो दिखा वह तो विशुद्ध रूप से आतंकवाद था, राजद के ‘गुंडाराज’ को भूल जाएंगे हिंदुत्व के नाम पर पनप रहे इस आतंकवाद को देखकर।

 

अलार्मिंग स्थिति


सकुन वाली बात एक ही दिखी की आगे में मुस्लिम क्षेत्र था जहां सैप सहित पुलिस अधिकारी डेरा डाले हुए थे, नीतीश की प्रशंसा करनी पड़ेगी । कल मेरे मुहल्ले से भी जुलूस गुजरा ,मैं बाहर निकलकर लाईव दिखला रहा था, मखदुमपुर के जुलूस की हरकत देखकर लगा कि अगर मेरे घर के सामने से गुजर रहे उस जुलूस ने किसी को जयश्रीराम बोलने के लिए बाध्य किया होता तो निसन्देह हंगामा हो जाता ,पिटाई करता कमीनो की ।नीतीश को अलग हो जाना चाहिए, उनक़ी साख अच्छी है ये तालिबान भाजपाई उनकी प्रतिष्ठा को भी समाप्त कर देंगे ।


बीजेपी के इस गन्दे खेल को रोकने और युवाओं को बर्बाद होने से बचाने के लिए हर घर के बुजुर्गों को आगे आना चाहिए अन्यथा कुछ भी नही बचेगा, उनके बच्चों की बलि चढ़ाकर बीजेपी सता हासिल करती रहेगी, युवक न तो नौकरी लायक रहेंगे, न व्यवसाय योग्य। आतंकी बनकर रेप डकैती करेंगे । बहुत ही एलार्मिंग स्थिति है ।
मुल्क को जर्मन,अफगानिस्तान, इराक बनने से बचाना होगा ।

फेसबुक वॉल से

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*