रिमझिम हत्याकांड; मैंने उसके जादू से छुटकारा पाने के लिए हत्या की

 पटना में रिमझिम चतुर्वेदी हाई प्रोफ़ाइल हत्या मामले में जो खुलासा पुलिस ने किया है उसके अनुसार रोहित नामक युवक ने रिमझिम के जादू से आज़ाद होने के लिए उसकी हत्या की थी।

पुलिस ने पुलिस ने इस मामले में छह अपराधियों को गिरफ्तार किया. पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने बताया कि यह हत्या 4 लाख रुपये की सुपारी देकर कराई गई. हत्या करवाने वाला रिमझिम चतुर्वेदी के जान पहचान का युवक रोहित था.

दरअसल डॉक्टर कीपटना के एसएसपी के अनुसार रोहित न अपने इकबालिया बयान में कहा है कि वह लगातार कुछ सालों से परेशान चल रहा था. उसकी परेशानी के बारे में पूनम ने रिमझिम चतुर्वेदी को जानकारी दी. रिमझिम चतुर्वेदी झाड़-फूंक भी किया करती थी. उसने दावा किया कि झाड़-फूंक के माध्यम से वह रोहित की परेशानियों को दूर कर देगी.

रोहित के अनुसार शुरू में रिमझिम द्वारा झाड़फूंक का काफी लक्क़ब्ह हुआ। लेकिन रिमझिम ने उससे लगातार गिफ्ट और रूपेवकी डिमांड जारी रखी। तब रोहित उससे छुटकारा पंक चाहता थक।बलेकिं रिमझिम उसे टार्चर करती थी और उसके परिवार को तबाह करने की धमकी देती थी। इस लिए उसने रिमझिम को रास्ते से हटाने का फैसला कर लिया।

रोहित एक निजी कंपनी में मैनेजर के पद पर काम कर रहा था और शुरुआती दौर में जब रिमझिम चतुर्वेदी ने उसके लिए झाड़-फूंक का काम करना शुरू किया तब रोहित को उससे कुछ फायदा महसूस हुआ. रिमझिम चतुर्वेदी ने रोहित को कहा कि वह सफलता के लिए चार अलग-अलग कलर का शर्ट खरीदें. उसके कहने पर रोहित ने चार अलग-अलग कलर के शर्ट खरीदे. एक मीटिंग में वह इन्हीं चार शर्ट में से एक शर्ट पहन कर गया और उसको उसकी मीटिंग सफल रही. उसे आर्थिक फायदा पहुंचा।

रोहित ने रिमझिम से 4 लाख रुपए 15 प्रतिशत के व्याज ओर लिया और उसी रूप को सुपारी किलर को दे दिया। इसके बाद 34 नवम्बर को रिमझिम की नौबतपुर के निकट हत्या कर दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*