रिश्वत लेते दबोचे गये मधुबनी के गुरुजी

निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की मुख्यालय टीम के द्वारा गुरुवलार को मधुबनी के एक स्कूल के प्रधानाध्यापक को आठ हजार रुपये रिश्वत लेते किरफ्तार कर लिया.

 

परिवादी संवेदक श्री देवकृष्ण मंडल द्वारा निगरानी अन्वेषण ब्यूरो मे शिकायत दर्ज करायी गयी था कि आरोपी रामदेव द्वारा परिवादी से अव्यवृत अवकाश एवं अनुमान्य मंहगाई भत्ते की निकासी के लिए दस हजार रुपये रिश्वत की मांग कर रहें हैं।

ब्यूरो के द्वारा सत्यापन कराया गया एवं सत्यापन के क्रम आरोपी आठ हजार रुपये पर तैयार हुए, इस प्रकार रिश्वत मांगे जाने का प्रमाण पाया गया। आरोप सही पाये जाने के पश्चात पारस नाथ सिंह, पुलिस उपाधीक्षक के नेतृत्व मे एक धावादल का गठन किया गया, जिनके द्वारा कार्रवाई करते हुये आरोपी रामदेव रिश्वत लेते हुए राजकीय मध्य विद्यालय, फुलपरास, मधुबनी से रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है।

 

अभियुक्तों के पूछ-ताछ के उपरान्त माननीय न्यायालय निगरानी, मुजफ्फरपुर में उपस्थापित किया जायेगा।

 

निगरानी थाना द्वारा जुलाई माह का यह चैथा ट्रैप है तथा वर्ष 2015 मे अबतक 30 ट्रैप के मामले हुए हैं, जिसमें अभी तक 32 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

 

रिश्वत मांगने से संबंधित कोई भी शिकायत कार्यालय अवधि में ब्यूरो के दूरभाष सं0-0612-2215043, 0612-2215344 एवं 7765953261, पर की जा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*