रेप के आरोपी विधायक राजवल्‍लभ ने राजद प्रमुख से की मुलाकात, राजनीतिक पारा चढ़ा

सत्तारुढ़ महागठबंधन के घटक जनता दल यूनाइटेड ने  दुष्कर्म के मामले में जमानत पर छूटे  राष्ट्रीय जनता दल के  निलंबित विधायक राजवल्लभ यादव के पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से मुलाकात किये जाने पर कहा कि ‘गणेश परिक्रमा’ से कोई बच नहीं सकता ।

लालू के आवास से बाहर आते राजबल्लभ

लालू के आवास से बाहर आते राजबल्लभ

दुष्कर्म के मामले में पटना उच्च न्यायालय से 30 सितम्बर को जमानत मिलने के बाद विधायक श्री यादव ने पार्टी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के दस सर्कुलर रोड स्थित आवास पर उनसे मुलाकात की । दोनों नेताओं के बीच करीब दो घंटे तक बातचीत हुयी ।

 

विधायक श्री यादव ने राजद अध्यक्ष से मुलाकात के बाद दुष्कर्म के मामले में बिहार सरकार के उच्चतम न्यायालय जाने से संबंधी पूछे गये पत्रकारों के सवाल के जवाब में कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सर्वोच्च न्यायालय नहीं गये हैं, बल्कि सरकार का एक सिस्टम होता है । उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोप को बेबुनियाद बताया । विधायक ने कहा कि वह राजद अध्यक्ष से दुर्गा पूजा के अवसर पर मिलने के लिए उनके आवास पर आये थे । बिहार सरकार से उन्हें कोई शिकायत नहीं है ।

 

राजद अध्यक्ष से विधायक की मुलाकात के संबंध में पूछे जाने पर उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि दोषी का फैसला हम और आप तय नहीं कर सकते । उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को भी न्यायालय बरी कर चुकी है ।  इसबीच जदयू के प्रवक्ता और विधान परिषद के सदस्य नीरज कुमार ने दोनो नेताओं की मुलाकात पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि राजनीतिक गठबंधन से नैतिक मूल्य बड़ा होता है । गणेश परिक्रमा या दंडवत से कोई दागी बच नहीं सकता । मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का मूलमंत्र कानून का राज है ।