लालू की रैली में बेकाबू हुई भीड़, तेजस्‍वी ने नीतीश, सुशील, गिरिराज को बताया सृजन का दुर्जन

राजद द्वारा भागलपुर के सैंडिस कंपाउंड मैदान में आयोजित रैली में लालू प्रसाद और तेजस्‍वी यादव को देखने के लिए भीड़ बेकाबू हो गई. सुरक्षाकर्मियों के समझाने के बाद भी जब बेकाबू भीड़ पर कब्‍जा नहीं किया जा सका, तब खुद लालू प्रसाद ने माइक थाम कर लोगों को शांत कराया. इसके बाद उनके पुत्र व पूर्व उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्‍यमंत्री सुशील कुमार मोदी, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, शहानवाज हुसैन समेत कई अन्‍य लोगों पर जम कर बरसे.

नौकरशाही डेस्‍क

तेजस्‍वी ने इन्‍हें सृजन के दुर्जन बताते हुए कहा कि सृजन घोटाला के 2000 करोड़ रुपए से अधिक के होने का अनुमान है. हमलोग आज यहां से सृजन के दुर्जनों के विसर्जन करने की शुरुआत कर रहे हैं. तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार राजद से अलग होने का बहाना तलाश रहे थे. तेजस्वी तो सिर्फ बहाना था, उन्हें सृजन के पाप को दबाना था.

उन्‍होंने कहा कि नीतीश कुमार अंतर आत्मा की बात करते हैं. सृजन घोटाला में आपकी आत्मा क्यों सो रही है. आपकी कोई अंतर आत्मा नहीं है. वह डर और मोदी आत्मा है. अपनी सुविधा के अनुसार नीतीश की अंतर आत्मा जागती और सोती है. तेजस्‍वी ने कहा कि सृजन घोटाला व्यापम घोटाले से भी बड़ा है. सीबीआई पर सृजन घोटाले का रफा दफा करने का प्रेशर है. इस मामले में नीतीश कुमार, सुशील मोदी और गिरिराज सिंह पर क्यों एफआईआर दर्ज नहीं की जा रही है?  इनके ठिकानों पर छापेमारी नहीं हो रही है और न किसी से पूछताछ की जा रही है? इससे जुड़े लोगों की रहस्यमयी तरीके से मौत हो रही है. यह सब साजिश है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी से इस्तीफा मांगते हुए तेजस्वी ने कहा कि नीतीश जी जनता की आवाज सुनिए जनता आपका इस्तीफा मांग रही है. नीतीश ने अपने अधिकारों का एसआईटी बनाकर सृजन मामले की जांच करने भेजा था. उनलोगों को सबूत नष्ट करने को कहा गया था.

 

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*