लालू –तेजस्‍वी का सुशील मोदी पर जोरदार हमला, कहा – रौब से चलता है शासन, मिमियाने – गिड़गिड़ाने से नहीं

गया में पितृपक्ष मेले के दौरान बिहार के उपमुख्‍यमंत्री सुशील कुमार मोदी का बयान पर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद और पूर्व उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव ने जोरदार हमला बोला है. जहां लालू प्रसाद ने सुशील मोदी को शासन चलाने का गुड़ बताया, वहीं तेजस्‍वी यादव ने नीतीश कुमार को भी निशाने पर लिया और कहा कि RCP टैक्स के मार्फ़त बोली लगाकर पोस्टिंग करने का यही नतीजा होगा. उन्‍होंने कहा कि हाँ भैया, यही नीतीशे कुमार है. बिहार में जंगलराज नहीं महाआतंकराज है. 

नौकरशाही डेस्‍क

दरअसल सोमवार को सुशील कुमार मोदी ने अपराधियों से आग्रह करते हुए कहा था कि वह कम से कम पितृपक्ष के दौरान किसी तरह के अपराध में संलिप्त ना रहें। जिस पर चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता चल रहे, लालू प्रसाद के ट्विटर अकाउंट पर लिखा गया कि हाथ-गोड़ कुछउ जोड़, अपराधियों के चरण धोकर उनका चरणामृत भी पी लों. अरे शर्म करो. क्रिमिनल्स के आगे मिमियाने और गिड़गिड़ाने से नहीं, शासन रौब से चलता है. तोहार लोगन के इक़बाल ख़त्म बा. चोर दरवाज़े से राज-काज में घुसल है ना, सो दुनो में नैतिक बल अउर आत्मविश्वास की कमी रहल.

तो तेजस्‍वी यादव ने सुशील मोदी के बयान को पर नीतीश कुमार को भी लपेट लिया और महाआतंक राज बताते हुए कहा कि 12 महीनों में 48 बार सजावटी समीक्षा बैठकें करने वाले मिलावटी राज के दिखावटी मुखिया नीतीश कुमार जी बिहार की क़ानून व्यवस्था के साथ खिलवाड़ कर रहे है. RCP टैक्स के मार्फ़त बोली लगाकर पोस्टिंग करने का यही नतीजा होगा. अपराधी गोली से राज कर रहे है और नीतीश जी बोली से. वाह चाचा. 

उन्‍होंने एक दूसरे ट्विट में सुशील मोदी पर तंज करते हुए लिखा  – ‘मैं अपराधियों से निवेदन करता हूँ कि पितृपक्ष के दिनों मे कोई वारदात ना करें:-सुशील मोदी, उपमुख्यमंत्री,बिहार

ख़ुलासा और दिलासा मास्टर की कुख्यात जोड़ी डर के मारे कुछ दिनो में अपराधियो के पैर भी पकड़े तो अचम्भित नहीं होना.

क्योंकि बिहार पुलिस से ज़्यादा AK-47 अपराधियों के पास है

मालूम हो कि मोदी का बयान ऐसे समय पर आया है जब रविवार को बदमाशों ने मुजफ्फरपुर के पूर्व मेयर समीर कुमार की एके-47 से गोली मारकर हत्या कर दी थी.  ऐसे में मोदी का यह एनडीए सरकार के गले की फांस बनती नजर आ रही है.

 

 

 

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*