लालू ने किया था आडवाणी को गिरफ्तार, मगर नीतीश नहीं करवा पा रहे चौबे के लड़के को गिरफ्तार

भागलपुर मामले को लेकर पूर्व उपमुख्‍यमंत्री व राजद नेता तेजस्‍वी यादव लगातार मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोल रहे हैं. इसकी क्रम में आज उन्‍होंने पूर्व उप प्रधानमंत्री व भाजपा के कद्दावर नेता लालकृष्‍ण आडवाणी के गिरफ्तारी का जिक्र करते हुए नीतीश कुमार पर ज्ञान बांटने का आरोप लगाया. 

नौकरशाही डेस्‍क

उन्‍होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा – ‘लालू जी ने देश को सांप्रदायिक हिंसा से बचाने के लिए आडवाणी जी को गिरफ़्तार किया था, लेकिन बिहार को बचाने के लिए नीतीश जी से चौबे जी का लड़का गिरफ़्तार नहीं हो रहा. ऊपर से ज्ञान बांट रहे हैं. यही नहीं, तेजस्‍वी ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के उस बात का भी जवा‍ब दिया, जिसमें कहा गया था कि ‘सुनो बाबू राजनीति में लंबा कैरियर है. दंगा मत फैलाइये.’

इस पर तेजस्‍वी ने दो टूक लहजे में कहा कि सुनो चाचा, अगर मुझे दंगा फैलाना होता तो मैं इन भाजपाई दंगाईयों के सहयोग से आज मुख्यमंत्री होता. अब बोलिए, क्या कह रहे थे? बता दें कि सोमवार को तेजस्‍वी ने नीतीश कुमार को ललकारते हुए लिखा था कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार चार सिपाही के साथ केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के दंगा आरोपित फ़रार बेटे को पकड़ने की मुझे प्रशासनिक अनुमति दें. एक घंटे में घसीटकर नीतीश कुमार के नकारा प्रशासन को सौंप दूँगा. मेरा दावा है. लटर-पटर से शासन नहीं चलता. दंगा रोकने के लिए कलेजा होना चाहिए.

 

 

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*