लालू ने मोदी पर दहाड़ा, तेज प्रताप ने ललकारा, बलात्कार का रिकार्ड दिखा कर पूछा बताओ किस राज्य में है जंगलराज

राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने भाजपा और पीएम मोदी पर दहाड़ लगाते हुए हमला किया है  और क्राइम रिकार्ड ब्योरो के आंकड़े दिखाया है जिसके अनुसार रेप की सर्वाधिक घटना वाले टाप तीन में भाजपा शासित राज्य हैं.lalupic

नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) का यह ताजातरीन रिकार्ड 2015 के हैं.

लालू ने फेसबुक पर लिखा है ‘बिहार चुनाव में आकर गला फाड़ फाड़ चिल्लाते थे- जंगलराज, जंगलराज। बिहारियों ने ऐसा सबक सिखाया की आजतक होश नहीं आया है’

हालांकि लालू ने अपने इस बयान में मोदी का नाम तक नहीं लिया लेकिन उनका स्प्ष्ट इशारा उन ही की तरफ था. लालू ने आगे लिखा है कि ‘बिहार से इनकी उल्टा गिनती शुरू हो गयी है’.

एनसीआरबी की रिपोर्ट

एनसीआरबी की रिपोर्ट

इस रिकार्ड को फेसबुक पर शेयर करते हुए व्यंग्य भरे लहजे में पूछा है- जरा माइक्रोस्कोप लगा के देखिये बाबू, बिहार का जंगलराज कौन पायदान पर है? और हाँ बाबू ज़रा ई भी बता दीजै, पहलका टॉप तीन में कौन-कौन है और वहां किसका राजपाट है?

एनसीआरबी की रिपोर्ट के अनुसार 2015 में रेप की सर्वाधिक घटनायें मध्यप्रदेश में(लगभग 4381) हुईं. बलात्कार की दूसरी सबसे ज्यादा रिकार्डेड वारदात महाराष्ट्र( 4144से ज्यादा) में पेश आयी. जबकि ऐसा ही तीसरा सबसे ज्यादा अपराध (3644) राजस्थान में दर्ज किया गया. गौरतलब है कि इन तीनों राज्यों में भाजपा की सरकारें हैं.

बलात्कार की घटनाओं के लिहाज से छोटा राज्य हरियाणा भी बिहार से आगे है. यहां 1070 घटनायें दर्ज की गयी. देश के 12 राज्यों में बलात्कार की घटनाओं में बिहार का स्थान सबसे नीचे है और यहां 1041 केस दर्ज किये गये.

 

 

लालू ने व्यंग्य भर लहज में पूछा है कि  जरा माइक्रोस्कोप लगा के देखिये बाबू, बिहार का जंगलराज कौन पायदान पर है? और हाँ बाबू ज़रा ई बी बता दीजै, पहलका टॉप तीन में कौन-कौन है और वहां किसका राजपाट है?

 

तेज प्रताप ने भी भाजपा को ललकारा

 

उधर स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने भी भाजपा के नेताओं को इस मुद्दे पर ललकारा है. उन्होंने फेसबुक पर लिखा है-

बिहार के #BJP के जितने भी मंत्री,विधायक या सांसद है,किन्हीं के Facebook Page या Twitter Account पे बिहार की इस बड़ी उपलब्धि को लेकर कोई भी प्रतिक्रिया अभी तक नजर नहीं आया है क्यों? क्या वो बिहारी नहीं है या फिर इस रिपोर्ट को झुठलाने में व्यस्त है या अपने आका से डर रहें है ?

 

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*