वर्षों बाद जातीय रैली में पहुंचे लालू

राजद प्रमुख लालू यादव आज वर्षों बाद जातीय रैली में शामिल हुए। उन्‍होंने खुद भी यह बात स्वीकार की। राजधानी पटना के गांधी मैदान में रविवार को प्रजापति चेतना महारैली का आयोजन किया गया‍ था। इसी रैली को उन्‍होंने संबोधित किया।lalu 1

 

लालू यादव कहा कि विलय के बाद जनता परिवार एक मजबूत ताकत बन गया है और आगामी विधान सभा चुनाव में हम दो-तिहाई बहुमत से जीतेंगे। उन्‍होंने कहा कि बिहार ही भाजपा का रथ रोक सकता है और देश को बचा सकता है। इसलिए हमने विलय किया है। राजद प्रमुख ने कहा कि विलय से भाजपा के भीतर धुकधुकी समा गया है। लालकृष्ण आडवाणी का रथ मैने रोका था। नरेंद्र मोदी को भी बिहार ही सबक सिखाएगा। लालू ने कहा कि 1990 में मुझे गरीबों-अतिपछड़ों ने ताकत दी थी। उस समय चुनौती बड़ी थी। कई पार्टी-झंडे को जोड़कार सरकार चलाया। गरीबों का राज दिलाया। यही मेरा कसूर था। आज पिछड़ा समाज बिखर गया है। इसलिए इनके सम्मेलन में मैने आना छोड़ दिया था। आज पहली बार यहां आया हूं। आपको एकजुट होने की आवश्यकता है। गरीबों और पिछड़ों के राज को भाजपा वाले जंगल राज कह रहे हैं।

 

लालू यादव ने नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान काला धन वापस लाने के वादे किए गए। भाजपा ने वादा किया था कि हर आदमी को 10 लाख रुपए मिलेंगे, लेकिन सत्ता में आते ही बीजेपी के लोग कहने लगे की वह तो जुमला था। लालू ने कहा कि भाजपा चुनाव के दौरान इसी तरह के झूठे वादे कर सपने दिखाएगी और बाद में कहेगी कि यह तो जुमला था। यह सब बिहार में नहीं चलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*