विचारधारा से समझौते के कारण हारी कांग्रेस-लेफ्ट

वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कांग्रेस और वामपंथी दलों पर हमला करते हुये कहा कि बाधा उत्पन्न करने के रवैये तथा विचारधारा से समझौता करने की नीति के कारण ही पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में उन्हें खामियाजा भुगतना पडा है । श्री जेटली ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर कटाक्ष किया कि इस पार्टी की विकास में बाधा डालने की राजनीति के साथ-साथ उसके नेता का रवैया पार्टी की हार का कारण रहा है । Jaitley_2143973f

 

उन्होंने फेसबुक पोस्ट में कहा कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजे संभावना के अनुरूप ही हैं । उन्होंने कहा कि चुनाव परिणामों के विश्लेषण से जो महत्वपूर्ण बात उभरी है, वह यह है कि ये नतीजे कांग्रेस के लिये गहरा झटका है । उसने केरल और असम को खोया है । केरल में उसकी सरकार पर भष्टाचार के गंभीर आरोप थे, जिससे उसे नुकसान हुआ है । भाजपा नेता ने असम में कांग्रेस के पराजय के कारण गिनाते हुये कहा कि वहां उसकी वोट बैंक के लिये घुसपैठ को बढावा देने नीति रही है, जो उसके खिलाफ गई । उन्होंने कहा कि भाजपा , असम गण परिषद और बोडो पीपुल्स फ्रंट के रणनीतिक गठबंधन ने कांग्रेस की इस एतिहासिक गलती को प्रचारित किया । वित्त मंत्री ने कहा कि तमिलनाडु में कांग्रेस तथा द्रमुक का गठबंधन अनुपयुक्त रहा । पश्चिम बंगाल में कांग्रेस ने विचारधारा के साथ समझौता कर वामपंथियों से गठबंधन किया जो दोनों के लिये उपयुक्त नहीं रहा । वर्ष 2014 के आम चुनाव के बाद कांग्रेस का ढुलमुल रवैया रहा है और उसका बर्ताव एक परिपक्व राजनीतिक दल का नहीं रहा है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*