विलय के लिए मुलायम अधिकृत, साइकिल से परहेज नहीं

जनता दल परिवार जल्द ही साइकिल पर सवार हो जाएगा। छह दलों का विलय करके नई पार्टी बनाने की घोषणा जल्‍द होने होगी। नई पार्टी के नेता मुलायम सिंह यादव होंगे और दो-तीन दिन में वे ही विलय की तारीख का औपचारिक ऐलान करेंगे। नए दल के नाम में ‘समाजवादी’ जोड़ने और ‘साइकिल’ सिंबल पर किसी को ऐतराज नहीं है।jatna

लखनऊ से राजेंद्र सिंह       

 

 

जनता दल के टूटने के बाद उसके नेता समाजवादी पार्टी,  जनता दल (यू),  जनता दल (एस), इंडियन नेशनल लोकदल और समाजवादी जनता पार्टी नाम से अलग-अलग दल चला रहे हैं। इन सभी को फिर से एकजुट करके नई पार्टी बनाने की कोशिशें अंजाम तक पहुंच गई है। सभी छह दलों का विलय करके नई पार्टी के गठन की औपचारिक घोषणा के लिए सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव को अधिकृत किया गया है। वे पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा और हरियणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला समेत सभी दलों के नेताओं से बातचीत कर चुके हैं।

 

बढ़ेगी ताकत

जनता दल (यू) के महासचिव व सांसद केसी त्यागी ने बताया कि सभी दलों ने विलय के लिए सहमति जता दी है। 20 अप्रैल को संसद सत्र के दूसरे चरण से पहले सभी दलों का विलय होने की उम्‍मीद है। त्यागी ने बताया कि विलय की औपचारिक घोषणा करने के लिए मुलायम सिंह यादव को अधिकृत किया गया है। वही नई पार्टी के नेता होंगे। वे सबसे सीनियर हैं और अन्य नेता उनके साथ काम कर चुके हैं। जनता दल परिवार के घटक दलों के विलय के बाद बनने वाली नई पार्टी की कमान मुलायम सिंह यादव के हाथों में रहेंगी। वे पार्टी अध्यक्ष के साथ ही संसदीय दल के नेता भी होंगे। नए दल में लोकसभा के 15 और राज्यसभा के 30 सांसद होंगे। ये सांसद यूपी, बिहार, कर्नाटक, हरियाणा आदि राज्यों से आएंगे। ऐसा पहली बार होगा जब मुलायम ऐसे दल के अध्यक्ष होंगे जिसका कई राज्यों में व्यापक जनाधार रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*